बड़वाह पुलिस ने शिक्षिका से ठगी करने वाले गिरोह का किया पर्दाफाश, 4 गिरफ्तार

बड़वाह, बाबूलाल सारंग। बड़वाह पुलिस (Barwaha Police) को एक ठगी (cheating) करने वाले गिरोह को पकड़ने में सफलता हासिल हुई है। जिसमें पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने बड़वाह निवासी शिक्षिका को प्रेत बाधा का झांसा देखर घर में किसी की मृत्यु होने का भय दिखा कर ठगी का शिकार बनाया था। गिरोह ने महिला से 1 लाख 49 हजार ठगे थे।

यह भी पढ़ें…शर्मसार हुई संस्कारधानी, दिव्यांग महिला से बलात्कार और 12 साल की बच्ची बनी रिश्तेदार की हवस का शिकार

24 घंटे में ही गिरोह को पकड़ा
दरअसल बड़वाह पुलिस थाने में विवेकानंद कॉलोनी निवासी एक महिला ने शिकायत की थी कि राकेश बाबा, धर्मेंद्र व दो अन्य व्यक्तियों के द्वारा उस से ठगी की गई है। आरोपियों ने उसे तांत्रिक विद्या का बल दिखाकर 14 सितंबर से 18 सितंबर तक एक लाख 49 हजार रुपए ठग लिए। शिकायत मिलने पर पुलिस ने मामले में तत्परता दिखाते हुए एक टीम गठित की गई। जिसके बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एवं प्रभारी पुलिस अधीक्षक जिला खरगोन जितेंद्र सिंह पवार एसडीओपी मान सिंह ठाकुर के मार्गदर्शन में बड़वाह थाना प्रभारी जगदीश गोयल के नेतृत्व में टीम ने 24 घंटे में ही गिरोह को पकड़ने में सफलता हासिल की।

पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि चारों आरोपी राकेश सोनगर, धर्मेंद्र, अजय और प्रेमनाथ ने पीड़ित महिला को तंत्र का सहारा देकर झांसे में लिया। उन्होंने महिला से कहा कि उनके घर में किसी व्यक्ति को किसी के द्वारा कुछ किया गया है जिससे घर में मृत्यु होना तय है जिसके बाद महिला डर गई। इसी बीच 14 से 18 सितंबर के अंदर आरोपियों ने फरियादी के पास पहुंच कर उसके पति पर ₹500 की उधारी को लेने की बात को लेकर उसके घर पर नींबू काटकर उसे अपने झांसे में लिया और महिला से पैसे ऐंठे। जब तक महिला कुछ समझ पाती बहुत देर हो चुकी थी जिसके बाद पीड़ित महिला ने पुलिस की शरण ली।

पुलिस को मुखबिर की सूचना मिली थी कि आरोपी राकेश बाबा उसके ओमकारेश्वर स्थित घर में है। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी बाबा के घर में घेराबंदी कर दबिश दी और उसे धर दबोचा। उसी के बाद तीन अन्य आरोपियों को उसकी निशानदेही पर पकड़ा गया।

यह भी पढ़ें…बालाघाट में वन विभाग की कार्रवाई, शिकार करने वाले 8 आरोपी गिरफ्तार