बैतूल: भाजपा कार्यालय को बनाया कोविड सेंटर, मरीजों के लिए सभी सुविधाएं होंगी मुफ्त

मध्यप्रदेश के बैतूल में बने कोविड सेंटर की शुरुआत कल यानि 14 मई से की जाएगी जिसमें मरीजों के लिए सभी सुविधा मुफ्त होंगी।

बैतूल, वाजिद खान। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के बैतूल (Betul) में अब मरीजों का न केवल निःशुल्क इलाज होगा बल्कि दवा से लेकर भोजन तक सब कुछ मुफ्त रहेगा। ऐसा संभव हो सका है, बैतूल भाजपा की उस टीम की बदौलत जिसने कोरोना मरीजों और उनके परिजनों के दर्द, उनकी क्षमता को समझा और एक ऐसा सहकार स्थापित कर दिया, जिसकी बैतूल को जरूरत थी। बैतूल के भाजपा कार्यालय विजय भवन को अब विजय कोविड केयर सेंटर में बदल दिया गया है। जहां 50 कोविड मरीजो को भर्ती करने की सहूलियत होगी, जिसमें 20 ऑक्सीजन बेड भी शामिल होंगे। वही जरूरत पड़ने पर इसे और बढ़ाया जा सकेगा।

यह भी पढ़ें…विदिशा के कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव पर हुई एफआईआर दर्ज

मरीजों को मिलेंगी सभी सुविधाएं मुफ्त
विजय कोविड केयर सेंटर में 50 बेड की व्यवस्था है। जिसे भविष्य में और बढ़ाया जा सकता है। इनमें 20 ऑक्सीजन व 30 सामान्य बेड रहेंगे। यहां 20 ऑक्सीजन बेड और बढ़ाये जाने की क्षमता है। ऑक्सीजन बेड तक पहुचाने के लिए पाइप लाइन लगाई गई है। जबकि मरीजो के लिए अच्छी क्वालिटी के बेड उपलब्ध कराए गए हैं। सेंटर में प्रशिक्षित डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ रहेगा। वही निजी चिकित्सक भी यहां अपनी सेवाएं देंगे। फिलहाल यहां तीन डॉक्टरों की व्यवस्था की गई है। भाजपा विधायक डॉ योगेश पंडाग्रे भी यहां व्यवस्थाओं को देखेंगे। मरीजों को फ्री आक्सीजन उपलब्ध होगी। जिसकी व्यवस्था भाजपा कार्यालय ही करेगा। मरीजो को मुफ्त दवा, भोजन उपलब्ध होगा साथ ही परिजन भी यहां मुफ्त भोजन पा सकेंगे। पूर्व सांसद हेमन्त खंडेलवाल, भाजपा जिलाध्यक्ष बबला आदित्य शुक्ला के प्रयासों से यह कोविड केयर सेंटर शुरू किया जा रहा है। जिसमें कल 14 मई से मरीजों को भर्ती किये जाने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। भाजपा नेताओं ने इसके संचालन, मरीजों की देखरेख, इलाज के लिए भोपाल से प्रशिक्षित डॉक्टरों की टीम और नर्सिंग स्टाफ की व्यवस्था की है।

बैतूल: भाजपा कार्यालय को बनाया कोविड सेंटर, मरीजों के लिए सभी सुविधाएं होंगी मुफ्त

10 दिन पहले बना था प्लान
पूर्व भाजपा सांसद हेमन्त खंडेलवाल ने बताया कि बैतूल में कोरोना के फैलते संक्रमण और मरीजों की लगातार आमद के बाद पूर्व सांसद ने इसकी 10 दिन पहले योजना बनाई थी। उन्होंने भाजपा जिलाध्यक्ष बबला शुक्ला को कलेक्टर से चर्चा कर भाजपा कार्यालय को कोविड केयर सेंटर के लिए अधिग्रहित करने की चर्चा की। लेकिन प्रशासन ने यह कहकर हाथ खड़े कर दिए थे कि उनके पास डॉक्टर और स्टाफ नही है। प्रशासन ने बस इतना भरोसा दिया था कि वह उनके निर्देशन और देखरेख में इस केंद्र को चला तो सकते है, लेकिन स्टाफ की व्यवस्था नही कर सकते है। जिसके बाद पूर्व सांसद हेमन्त खंडेलवाल ने इस केंद्र को शुरू करने पूरी ताकत लगा दी, जो अब शुरू होने के लिए तैयार है, यह देखने मे आ रहा था कि सरकारी अस्पतालों में मरीजों की भीड़ ज्यादा हो रही थी। निजी असपतालो में लोग उनका बिल चुकाने में असमर्थ हो रहे थे। इसलिए विचार आया कि सरकारी अस्पताल की तरह मुफ्त केयर सेंटर शुरू किया जाए जो निःशुल्क हो और सरकार, प्रशासन के मार्गदर्शन में चले। नर सेवा ही नारायण सेवा है। यही जीवन का ध्येय है। इसीलिए इस केंद्र को शुरू कराया गया है। कार्यालय को केयर सेंटर में बदलने भाजपा के कार्यकर्त्ताओ ने अथक मेहनत की है, पूरी टीम पिछले दस दिन से इस सेवा कार्य मे जुटी हुई थी।

यह भी पढ़ें… पुलिस कार्रवाई पर डीएम ने उठाये सवाल, एसपी को दिए जाँच के निर्देश