बैतूल: पिता की याद में इस विधायक ने शुरु की निःशुल्क एम्बुलेंस सेवा, स्थानीय लोगों को मिलेगी सुविधा

डागा फाउंडेशन (daga foundation) ने आज बैतूल में आम नागरिकों को फाउंडेशन की तरफ से निःशुल्क एंबुलेंस (free ambulance) की सुविधा की सौगात दी है । 22 लाख रुपए की लागत की यह एंबुलेंस बैतूल तहसील में मरीजों के लिए निःशुल्क चलाई जाएगी ।

बैतूल

बैतूल, वाजिद खान। मध्यप्रदेश के बैतूल (betul) में कोरोना काल (corona phase) में आम लोगों सहित फ्रंट लाइन वर्करों को बैतूल विधायक (MLA) निलय डागा द्वारा हर सम्भव सहायता उपलब्ध कराई जा रही है। अब गंभीर मरीजों को अस्पतालों (hospitals) तक पहुंचाने के लिए बिल्कुल भी परेशान नही होना पड़ेगा। बैतूल के कांग्रेसी विधायक निलय डागा से जुड़े डागा फाउंडेशन (daga foundation) ने आज बैतूल में आम नागरिकों को फाउंडेशन की तरफ से निःशुल्क एंबुलेंस (free ambulance) की सुविधा की सौगात दी है । 22 लाख रुपए की लागत की यह एंबुलेंस बैतूल तहसील में मरीजों के लिए निःशुल्क चलाई जाएगी ।

यह भी पढ़ें… MP Weather Update: मप्र के इन जिलों मे बारिश की आसार, येलो अलर्ट जारी

पूर्व कांग्रेसी विधायक स्व.विनोद डागा की जयंती पर्व पर आज उनके बेटे और कांग्रेस विधायक निलय डागा ने इस एंबुलेंस का लोकार्पण किया। इस मौके पर श्रीमती निर्मला विनोद डागा , श्रीमती दीपाली निलय डागा ने एम्बुलेंस का पूजन अर्चन किया। सर्वसुविधायुक्त यह एंबुलेंस आम लोगों की सुविधा के लिए निशुल्क उपलब्ध रहेगी। इसमें मरीजों को घर से अस्पताल तक लाने की सुविधा शुरू की गई है । इस एंबुलेंस का संचालन डागा हाउस करेगा। एंबुलेंस में मरीजों के लिए आवश्यक सुविधाओं का संयोजन किया गया है।

विधायक निलय डागा ने बताया कि एंबुलेंस बैतूल तहसील क्षेत्र में संचालित की जाएगी। फिलहाल इसमें वेंटिलेटर की व्यवस्था नहीं है। लेकिन जल्दी ही वेंटिलेटर सहित बायपेप मशीन भी लगाने का प्रयास किया जा रहा है । उन्होंने बताया कि उनके पिता पूर्व विधायक स्व. विनोद डागा की जयंती पर आम लोगों के लिए यह सुविधा निःशुल्क उपलब्ध कराई जा रही है। डागा ने बताया कि क्षेत्र के आमजन के लिए डागा फाउंडेशन इसी तरह की सुविधाएं और व्यवस्थाएं आगे भी उपलब्ध कराता रहेगा। ताकि आम जनों को तकलीफों का सामना न करना पड़े। पूर्व विधायक एवं पूर्व प्रदेश कोषाध्यक्ष स्व. विनोद डागा को भी एक संक्षिप्त कार्यक्रम में श्रद्धाजंलि दी गयी, इस अवसर पर डागा परिवार के करीबी शामिल हुए। डागा के छाया चित्र पर 19 दीप प्रज्वलित कर पुष्प अर्पित किए गए ।

यह भी पढ़ें… अब 2 से 18 साल के बच्चों पर होगा को-वैक्सिन का क्लिनिकल ट्रायल! हाईकोर्ट ने सुनाया फैसला

एम्बुलेंस शुरू होने से बैतूल के लोगों को बहुत ही सुविधा होगी जिससे कोविड के मरीजों को घर से हॉस्पिटल शिफ्ट करने में या एक हॉस्पिटल से दूसरे हॉस्पिटल शिफ्ट करने में आसानी होगी और बैतूल की जनता को परेशान नही होना पड़ेगा।विधायक ने बैतूल कलेक्टर से अपील भी की है कि आप 108 पर कॉल करने वाले मरीजों को या कंट्रोल रूम में कॉल करने वाले मरीजों के परिजनों को डागा फाउंडेशन से संपर्क करने की सलाह दीजिये। ताकी लोग एम्बुलेंस के लिए परेशान न हों।