Bhind :आधार पंजीयन कर्मी पर कार्रवाई, कलेक्टर ने लिखा ब्लैकलिस्ट करने के लिए पत्र

वीडियो सामने आने के बाद आधार पंजीयन कर्मी पर कार्रवाई हुई। कलेक्टर ने उसे ब्लैकलिस्ट करने हेतु नोडल अधिकारी को पत्र लिखा है।

भिंड, सचिन शर्मा। भिंड जिले (Bhind District) में किला परिसर में स्थित कृषि विभाग कार्यालय में एक आधार कार्ड सुपरवाइजर (supervisor) द्वारा आधार कार्ड (Aadhar card) में नाम संशोधन के नाम पर मनमानी पैसे वसूलने का मामला प्रकाश में आया था। जिसके बाद जिले के कलेक्टर डॉ सतीश कुमार एस (Collector Dr. Satish Kumar S.) ने नोडल अधिकारी को आधार केंद्र संचालक पर तुरंत कार्रवाई करने के लिए और उसे ब्लैक लिस्टेड करने के लिए पत्र लिखा है।

यह भी पढ़ें… Bhopal News : हिन्दू लड़की से शादी कर जबरदस्ती धर्म परिवर्तित करा रहा था ईसाई युवक, केस दर्ज

उपरोक्त पत्र में कलेक्टर ने सुपरवाइजर पर आवश्यक कार्यवाही करने के संबंध में लिखा कि अनुविभागीय अधिकारी, कृषि विभाग, अनुभाग भिंड अंतर्गत आधार पंजीयन का कार्य कर रहे सुपरवाइजर जाकिर खान, मशीन नंबर 32077, मोबाइल नंबर .9888146744, आधार नंबर 806659680459, सुपरवाइजर सर्टिफिकेट नंबर 122913 द्वारा आधार पंजीयन हेतु निर्धारित शुल्क से अधिक राशि लिए जाने और नागरिकों से गलत व्यवहार करने संबंधी जानकारी प्राप्त हुई थी। जिसका वीडियो भी सामने आया है जिसमें तय की हुए शुल्क से अधिक राशि और नागरिकों से अभद्र व्यवहार करना पाया गया है। जोकि आधार पंजीयन केंद्र हेतु निर्धारित नियमों का उल्लंघन है। अतः आधार पंजीयन सुपरवाइजर जाकिर खान के विरोध इन एक्टिव ब्लैक लिस्ट एवं अन्य आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें।

ये है मामला
दरअसल गुरुवार को जब चासड़ निवासी किशन सिंह अपने 12 वर्षीय बेटी का आधार कार्ड में नाम संशोधन कराने गए थे। तब आधार कार्ड सुपरवाइजर जाकिर खान द्वारा उनसे ₹50 की जगह ₹200 मांगे गए थे। वहीं जब किशन ने इस चीज का विरोध किया तो कर्मी द्वारा उसे धमकी दी गई कि उसका आधार कार्ड आप कोई भी नहीं बनाएगा। वहीं जब इस दौरान किशन द्वारा जाकिर का वीडियो बनाया जा रहा था तो जाकिर ने यह भी कहा कि यह वीडियो जाकर कलेक्टर को दिखा दो। वो मुझे पंखा नहीं देते हैं। वहीं भिंड से लेकर भोपाल तक रिश्वत खिलाने की भी बात की गई। वहीं कलेक्टर के समक्ष इस मामले के आने के बाद कलेक्टर द्वारा नोडल अधिकारी को सुपरवाइजर को ब्लैक लिस्टेड करने के लिए पत्र लिखा गया है।