कमिश्नर ने कार्यपालन यंत्री को कारण बताओ नोटिस किया जारी

भिंड, सचिन शर्मा। कलेक्टर भिण्ड के प्रतिवेदन के आधार पर चंबल कमिश्नर आशीष सक्सेना ने ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के कार्यपालन यंत्री भिण्ड आलोक तिवारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। दरअसल आलोक तिवारी द्वारा स्थानीय क्षेत्र विकास योजनान्तर्गत स्वामी विवेकानन्द महाविद्यालय भिण्ड के प्रथम तल पर अतिरिक्त कक्ष निर्माण एजेन्सी पुष्पसमास कल्याण एवं शिक्षा प्रसार समिति भिण्ड के प्रकरण में अनियमितता की जांच समिति द्वारा प्रस्तुत प्रतिवेदन में उल्लेखित कमियों के क्रम में कार्यपालन यंत्री की लापरवाही पायी गई।

यह भी पढ़े.. डेढ़ साल की मासूम बोरवेल मे गिरी, निकालने के प्रयास जारी

इस संबंध में 13 सितम्बर को आलोक तिवारी को सूचना पत्र जारी किया गया था, जिसका संतोषजनक जब प्राप्त नहीं हुआ। तब इसे पदीय कर्तव्यों के निर्वहन में कार्यपालन यंत्री की लापरवाही एवं उदासीनता मानकर सूचना पत्र जारी किया गया है। इस संबंध में कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया गया है। नियमों अनुसार अगर इस सूचना पत्र का जबाव 7 दिवस के अंदर प्राप्त नही होता है तो यह मान लिया जावेगा कि इस संबंध में आलोक तिवारी कुछ नहीं कहना चाहते है। इसके बाद इनके खिलाफ एकपक्षीय कार्यवाही की जायेगी।