कानून व्यवस्था छोड़, रेत, गिट्टी में लग गई पुलिस : डॉ. गोविंद सिंह

रेत गिट्टी जैसे अवैध कार्यों को रोकने के लिये स्पेशल टास्क फोर्स का गठन किया जाए। पुलिस की संलिप्तता जब तक रेत गिट्टी के कारोबार में रहेगी तब तक अपराधों पर अंकुश लग पाना संभव नही है।

Amit Sengar
Published on -
Dr. Govind Singh

Bhind News : पूर्व नेता प्रतिपक्ष एवं पूर्व मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने कहा है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था खस्ता हालत में है। पुलिस के छोटे से कर्मचारी से लेकर बड़े अधिकारी तक खदानों से रेत गिट्टी की अवैध कमाई में लगे हुए हैं। कानून व्यवस्था से उनका कोई लेना देना नही है। इसीलिये प्रदेश में अपराध बढ़ रहे हैं।

पुलिस अपने मूल कार्य से भटकी

पुलिस का काम अपराधों पर नियंत्रण करना है न कि खदानों से निकलने वाली रेत के ट्रकों की गिनती और वसूली है। लेकिन पुलिस अपने मूल कार्य से भटक कर अवैध रूप से चल रहे रेत गिट्टी के ट्रकों,जुआ व सट्टे में लग गई है। प्रदेश में बलात्कार की घटनाएं बढ़ रही हैं, चोरी, लूट व सायबर क्राइम से जनता परेशान है लेकिन पुलिस को इससे कोई लेना देना नही है।बीती 15 जून की घटना दिल दहला देने वाली है। श्योपुर जिले के विजयपुर में रजक समाज की 15 वर्षीय बिटिया का अपहरण कर उसके साथ बलात्कार किया गया और बाद में उसकी हत्या कर दीं गई। पुलिस अभी तक अपराधियों की शिनाख्त भी नही कर पाई है तो गिरफ्तारी कैसे करेगी।

मुख्यमंत्री से आग्रह है कि वे पुलिस को निर्देश दें कि वह अपने मूल कार्य कानून व्यवस्था तक सीमित रहे और अपराधों पर अंकुश लगाने का काम करें। रेत गिट्टी जैसे अवैध कार्यों को रोकने के लिये स्पेशल टास्क फोर्स का गठन किया जाए। पुलिस की संलिप्तता जब तक रेत गिट्टी के कारोबार में रहेगी तब तक अपराधों पर अंकुश लग पाना संभव नही है।


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News