Agniveer Recruitment : अग्निवीर रैली भर्ती में फर्जी दस्तावेज के साथ पकड़े गए15 युवा, पुलिस कर रही पूछताछ

इन दिनों भोपाल (Bhopal) के लाल परेड मैदान में अग्निवीर (Agniveer) सैनिक भर्ती रैली चल रही है। ऐसे में यूपी से आए युवाओं ने एमपी के फर्जी डाक्यूमेंट्स बनवा कर इस परीक्षा के लिए एंट्री ले ली। लेकिन बाद में जांच में ये सभी पकड़ा गए। कुल 15 अभ्यर्थियों को फर्जी दस्तावेज के साथ पकड़ा गया है। इन सभी की मूल निवासी प्रमाण पत्र और मार्कशीट फर्जी पाई गई।

Agniveer

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। इन दिनों भोपाल (Bhopal) के लाल परेड मैदान में अग्निवीर (Agniveer) सैनिक भर्ती रैली चल रही है। ऐसे में रोजाना 5000 हजार से ज्यादा युवा इसमें भाग ले रहे हैं। लेकिन आज कुछ युवाओं को फर्जी दस्तावेज के साथ पकड़ा गया है। बताया जा रहा है कि यूपी से आए युवाओं ने एमपी के फर्जी डाक्यूमेंट्स बनवा कर इस परीक्षा के लिए एंट्री ले ली। लेकिन बाद में जांच में ये सभी पकड़ा गए। कुल 15 अभ्यर्थियों को फर्जी दस्तावेज के साथ पकड़ा गया है। इन सभी की मूल निवासी प्रमाण पत्र और मार्कशीट फर्जी पाई गई। जिसके बाद आर्मी इंटेलिजेंस ने इन सभी को पकड़ लिया। अभी सभी से पूछताछ की जा रही है। पूछताछ के बाद ही पता लगाया जा सकेगा की आखिर ऐसा क्यों किया गया।

Must Read : रणबीर कपूर के साथ इस फिल्म में नजर आएगा इंदौर का स्वास्तिक, अक्षय कुमार के साथ भी कर चुका है काम

जानकारी के मुताबिक, 9 जिलों में करीब 45 हजार युवा इस परीक्षा में भाग लेने वाले हैं। ऐसे में रोजाना भोपाल के लाल परेड गार्डन में 5000 युवा इस परीक्षा के लिए अपना आवेदन दे रहे हैं। इन्हीं में से बुधवार के दिन कुछ युवा फर्जी दस्तावेज के साथ पकड़े गए। जिसके बाद जांच की प्रक्रिया और सख्त कर दी गई है। बताया जा रहा है कि बुधवार के दिन भर्ती में दौड़ में भाग लेने के बाद पास होने वाले युवाओं के दस्तावेजों का वेरिफिकेशन चल रहा था। इसी दौरान फर्जी दस्तावेजों के शंका होने पर 15 युवाओं को बाहर कर दिया गया। अब उनकी भी तलाश की जा रही हैं जिन्होंने ये फर्जी दस्तावेज बना कर दिए है।

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही आर्मी ने लाल परेड ग्राउंड से एक संदिग्य को भी गिरफ्तार किया था। वो युवक भर्ती में चल रही प्रक्रिया पर नजर रख रहा था साथ ही ताकझांक कर रहा था इतना ही नहीं उसने मोबाइल में वीडियो भी बना ली थी। जिसके बाद टीम ने देख लिया और उससे पूछताछ की फिर पुलिस को सौंप दिया। वह युवक बैरागढ़ थाना क्षेत्र का निवासी है। इस मामले को लेकर एसीपी जहांगीराबाद संभाग अभिनव विश्वकर्मा द्वारा बताया गया है कि भर्ती रैली के दौरान लाल परेड मैदान में मौजूद युवक की संदिग्ध गतिविधियों को देखते हुए टीम के अधिकारीयों द्वारा उसको पकड़ लिया गया और जहांगीराबाद थाना पुलिस को सौंप दिया।