70 लाख की धोखाधड़ी के आरोपी उड़ीसा से गिरफ्तार, MDMA ड्रग का पार्सल भेजे जाने और मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगाकर बनाते थे शिकार

इस मामलें में प्रयुक्त बैंक खाते में तीन माह में करीबन 3 करोड 22 लाख का ट्रांजेक्शन हुआ, इसमें बैंक अधिकारियों की मिलीभगत भी सामने आई।

shahdol news

BHOPAL NEWS : सायबर क्राइम ब्रांच जिला भोपाल की टीम द्वारा “आधार आई.डी. से MDMA ड्रग का पार्सल भेजे जाने की झूठी बात बताकर एवं मनी लॉण्डरिंग का आरोप लगाकर 68.49 लाख रुपये की धोखाधडी के आरोपियों” को गिरफ्तार किया गया है। फरियादी की आधार आई.डी. से ड्रग पार्सल भेजे जाने एवं मनी लॉण्डरिंग का केस लगाने का डर दिखाकर फरियादी से 68.49 लाख रुपये की ठगी में शामिल दो और आरोपियों को उड़ीसा से क्राइम ब्रांच भोपाल की सायबर टीम ने गिरफ्तार किया है, पुलिस ने 05 आरोपियों को पूर्व मे गिरफ्तार किया है, इस मामलें में पिछले तीन माह में अब तक कुल 07 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

यह था मामला 

आवेदक द्वारा शिकायत की गई कि किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा स्वयं को फेडेक्स कम्पनी का कर्मचारी बताकर आवेदक के नाम से ड्रग का पार्सल मुम्बई से ताईबान भेजे जाने के सबंध में बताया बाद अन्य अज्ञात आरोपी द्वारा स्काइप पर कॉल कर स्वयं को क्राइम ब्रांच मुम्बई का DCP बताकर फरियादी के नाम का 200 mg MDMA ड्रग पार्सल पकडे जाने का डर दिखाकर व फरियादी को वीडियो कॉल पर ऑब्जर्वेशन में रखने के नाम पर (सेल्फ अरेस्ट कर) व मनी लॉण्डरिंग का झूठा आरोप लगाकर फरियादी के साथ 68 लाख 49 हजार रुपये की ऑनलाईन धोखाधडी की गई। इस धोखाधडी की शिकायत आवेदक द्वारा सायबर क्राइम ब्रांच भोपाल में की गई। शिकायत जांच में अज्ञात आरोपी व्हाट्सएप नम्बर, मो.नं. व स्काइप आई.डी. Id एवं बैंक खातों के वास्तविक उपयोगकर्ता के विरूद्ध मामला दर्ज कर विवेचना में लिया गया।

इस तरह देते थे वारदात को अंजाम 

जयपुर राजस्‍थान से गिरफ्तार आरोपियों का तरीका-ए-वारदात:- खाता धारक राजेंद्र मीणा निवासी सवाई माधोपुर राजस्थान द्वारा फर्जी पते व कूटरचित दस्तावेजों के आधार पर AU स्मॉल फाइनेंस बैंक में करेंट एकाउंट ऑपन कराया एवं AU स्मॉल फाइनेंस बैंक के कर्मचारी लोकेश सैनी ने बैंक खाता को गलत तरीके से वेरीफाई कर फर्जी पते व कूटरचित दस्तावेजों के आधार पर बैंक की खाता खोलने में मदद की थी। खाता धारक राजेन्द्र मीणा द्वारा इस खाते को नमो नारायण को एक लाख पचास हजार रूपये में बेच दिया।

खाताधारक भी शामिल 

खाता धारक अब्दुल कादर ए. एन. निवासी कासरगोड केरल ने अन्य आरोपी अब्‍दुल रहमान के कहे अनुसार ठगी की राशि अपने बैंक खाते में प्राप्त की और कैश निकालकर अब्दुल रहमान को दे दी। खाताधारक अब्दुल कादर ने इसके एवज में अपना कमीशन प्राप्त किया। आरोपी अब्‍दुल रहमान निवासी कासरगोड केरल ठगी की राशि को अलग अलग बैंक खातों से डलबाकर राशि खाताधारकों की निकलबाकर अपना कमीशन रखकर कैश शाफी निवासी कासरगोड केरला (जो दुबई में रहकर ठगी के कार्य में संलिप्त है) के पास पहुँचाता है।

दौसा राजस्‍थान से गिरफ्तार आरोपी का तरीका-ए-वारदात- आरोपी नमो नारायण मीणा S/O सरदार मीणा निवासी ग्राम बानोर थाना बामनवास जिला सवाई माधोपुर राजस्थान के द्वारा अपराध में प्रयुक्त बैंक खाता खाताधारक राजेन्द्र मीणा से खरीदकर अन्य ठग को बेचा जिसके एवज् में आरोपी नमो नारायण मीणा ने 3,50,000/- रुपये कमीशन लिया। आरोपी द्वारा पूछताछ में बताया गया कि वह खाते में प्रतिदिन हुए ट्राजेक्सन का 3% कमीशन के रुप में लिया। आरोपी नमो नारायण को कुल करीबन 5,00,000/- रुपये कमीशन मिला था जिसमें से करीबन 1,50,000/- रुपये उसने खाताधारक राजेन्द्र मीणा को दे दे दिये शेष 3,50,000/- रुपये अपने पास रखे।

कोरापुट व बरगढ उडीसा से गिरफ्तार आरोपियों का तरीका-ए-वारदात:- खाता धारक द्रुबाडाला सिका निवासी ग्राम कुसकेला थाना सिंधिकेला जिला बालंगीर उडीसा ने अपने साथी आरोपी रोहित तुरूक निवासी ग्राम काकरीगुता लक्ष्मीपुर ब्लॉक जिला कोरापुट उडीसा के साथ के साथ मिलकर Jhaba Jhiri Enterprises नाम की फर्जी फर्म रजिस्टर कराकर पीएनबी बैंक में करंट अकाउंट ऑपन कराया व दोनो आरोपियों ने करीबन दो लाख रूपये लेकर उक्त बैंक खाता अन्य सायबर अपराधी को बेच दिया।

पुलिस की कार्रवाई

सायबर क्राईम जिला भोपाल की टीम द्वारा अपराध कायमी के पश्चात तकनीकी जानकारी के आधार पर 15 मार्च को अपराध में प्रयुक्त बैंक खाता के धारक राजेंद्र मीणा एवं AU स्मॉल फाइनेंस बैंक के कर्मचारी लोकेश सैनी को जयपुर राजस्थान से गिरफ्तार किया है। आरोपी राजेन्द्र मीणा से एक एण्ड्रोईड मोबाईल फोन जप्त किया गया है। अपराध में प्रयुक्त बैंक खाता के धारक अब्‍दुल कादर एवं अब्‍दुल रहमान को कासरगोड केरला से गिरफ्तार किया है। आरोपी अब्‍दुल रहमान से एक एण्ड्रोईड मोबाईल फोन व एक बैंक एटीएम कार्ड जप्त किया गया है एवं आरोपी अब्‍दुल रहमान से एक एण्ड्रोईड मोबाईल फोन व एक कीपेड मोबाईल फोन जप्‍त किया गया है।  वही 14 मई को आरोपी रोहित तुरूक को कोरापुट उडीसा से गिरफ्तार कर आरोपी के कब्जे से एक एण्ड्रॉईड मोबाईल फोन व दो सिम कार्ड जप्त किये गये एवं दिनांक 16/05/2024 को आरोपी द्रुबाडाला सिका को जिला बरगढ उडीसा से गिरफ्तार कर आरोपी के कब्जे से एक एण्ड्रॉईड मोबाईल फोन जप्त किया गया।

अब तक गिरफ्तार आरोपी 
1. राजेन्द्र कुमार मीणा पिता लक्ष्मीनारायण मीणा उम्र 26 साल निवासी – ग्राम सांचोली, तहसील बामनवास थाना बाटोदा जिला सवाई माधोपुर राजस्थान 12वी तक खेती अपराध में प्रयुक्त बैंक खाते का खाताधारक
2. लोकेश सैनी पिता जगदीश प्रसाद उम्र 24 साल निवासी – प्लॉट नं. 21, रंजीत नगर, थाना खातीपुरा, जयपुर राजस्थान बी.कॉम बैंक कर्मचारी अपराध में प्रयुक्त बैंक खाते को फर्जी तरीके से खोलने में सहायक बैंक कर्मी
3. अब्दुल कादर ए. एन. पिता श्री एन. ए. अहमद उम्र 42 साल निवासी आयशा मंजिल, नैमरमूला, मुत्ताथोडी गांव मुत्ताथोडी, कासरगोड केरल 10वी सेल्‍समेन अन्य खाताधारक जिसने कैश निकालकर अन्य आरोपी अब्दुल रहमान को देने वाला (सेकेण्ड बेनेफिसियरी)
4. अब्दुल रहमान पिता श्री पी. मुइद्दीन उम्र 39 साल निवासी ग्राम पेरुम्बला, जी.यू.पी. स्कूल के पास, थाना मेलपराम्बा, कासरगोड केरल 10वी गल्‍फ देशों में प्रायवेट काम खाताधारक अब्दुल कादर से कैश लेकर कैश को अन्य ठग पहुँचाने वाला
5. नमो नारायण मीणा S/O सरदार मीणा उम्र 22 साल निवासी ग्राम बानोर थाना बामनवास जिला सवाई माधोपुर राजस्थान B.A. बेरोजगार आरोपी खाताधारक राजेन्द्र मीणा से खाता खरीदकर कमीशन पर अन्य ठग को देने वाला
6. द्रुबाडाला सिका पिता हरीहर सिका उम्र 27 साल निवासी ग्राम कुसकेला थाना सिंधिकेला जिला बालंगीर उडीसा ITI (Civil) प्राईवेट जॉब अपराध में प्रयुक्त बैंक खाते का खाता धारक
7. रोहित तुरूक पिता सुरेन्द्र तुरूक उम्र 25 साल निवासी ग्राम काकरीगुता लक्ष्मीपुर ब्लॉक जिला कोरापुट उडीसा 12th प्राईवेट जॉब आरोपी खाता धारक द्रुबाडाला सिका से खाता खरीदकर कमीशन पर अन्य ठग को देने वाला

 


About Author
Avatar

Sushma Bhardwaj