Big News : मध्य प्रदेश में फिल्म निर्माताओं को मिलेगी सशर्त सब्सिडी, परिवहन मंत्री ने कही यह बात।

गोविन्द सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश में अन्य राज्यों की तरह फिल्म निर्माताओं को इस शर्त के साथ फिल्म निर्माण के लिये सब्सिडी प्रदान की जाएगी कि वे फिल्म में प्रदेश के 70 फीसदी कलाकारों अथवा कामगारों को अवसर देंगे।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  परिवहन एवं राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने अमृत महोत्सव के अवसर पर आयोजित खजुराहो फिल्म फेस्टिवल के दूसरे दिन पधारे अतिथि कलाकारों दिलीप ताहिल एवं सुष्मिता मुखर्जी का शॉल श्रीफल एवं मोमेन्टो भेंट कर स्वागत किया। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में अन्य राज्यों की तरह फिल्म निर्माताओं को इस शर्त के साथ फिल्म निर्माण के लिये सब्सिडी प्रदान की जाएगी कि वे फिल्म में प्रदेश के 70 फीसदी कलाकारों अथवा कामगारों को अवसर देंगे। परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने कहा कि 11 दिसम्बर तक चलने वाले इस समारोह में देश की संस्कृति की झलक देखने को मिलेगी। उन्होंने कहा कि इस वर्ष यह फेस्टिवल शहीद जवानों को समर्पित किया गया है। श्री राजपूत ने अंतर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल के अंतर्गत पाहिल वाटिका में टपरा टॉकिज का फीता काटकर शुभारंभ किया। उन्होंने टॉकिज में शुभारंभ के अवसर पर वेनिजुएला की फिल्म ‘द इनरग्लो (The Inneglow)’ देखी।

यह भी पढ़े…  MP में पुलिस कमिश्नर सिस्टम: फाइनल ड्राफ्ट तैयार, सीएम जल्द दे सकते है मंजूरी

खजुराहो में बनेगा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा 

परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश फिल्म निर्माण के लिये उपयुक्त स्थल हैं। प्रदेश में लगभग हर माह 8 से 10 फिल्मों की शूटिंग होती है। उन्होंने कहा कि पर्यटन की दृष्टि से खजुराहो अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विश्व विख्यात है। परंतु अभी भी यहां विकास को गति देने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि खजुराहो को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिये खजुराहों के हवाई अड्डे को अंतर्राष्ट्रीय स्तर के हवाई अड्डे के रूप में विकसित किया जाएँ जिससे अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों को प्रारंभ किया जा सकें।