सीएम शिवराज बोले-दोषी बख्शा नहीं जाएगा, अस्‍पतालों में फायर सेफ्टी ऑडिट के निर्देश

सीएम शिवराज ने कहा कि घटना में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

MP Corona सीएम शिवराज

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल के सरकारी हमीदिया अस्पताल परिसर के कमला नेहरू अस्पताल (Kamla Nehru Hospital) में बच्चों की मौत के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सख्त एक्शन लिया है।सीएम शिवराज ने कहा कि घटना में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इन बच्चों की जान बचाने की जिम्मेदारी हमारी थी। सचमुच में ये तकलीफ देने वाली घटना है।

यह भी पढ़े.. मप्र पंचायत चुनाव : उम्मीदवारों को देना होगा ये प्रमाण पत्र, अधिकारियों को सौंपे दायित्व

आज कैबिनेट बैठक (Cabinet Meeting) की शुरुआत से पहले सीएम शिवराज सिंह (CM Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि कमला नेहरू अस्पताल में कल रात दुर्भाग्यपूर्ण दर्दनाक घटना घटी। कुछ नौनिहाल हमारे बीच नहीं रहे। मैंने घटना की जांच के निर्देश दिए हैं।वही अपनी जान हथेली पर रखकर 36 बच्चों को सुरक्षित बाहर निकालने वाले डॉक्टर्स, नर्स और वार्ड बॉय सम्मानित किए जाएंगे।

सीएम शिवराज ने निर्देश दिए हैं कि सभी शासकीय और गैर शासकीय अस्पतालों (Government And Private Hospital) का तत्काल फायर सेफ्टी ऑडिट कराया जाए। हमें वह सभी उपाय करने होंगे जिससे ऐसी घटना का दोहराव ना हो। कोविड-19 परिणाम स्वरूप कई अस्पतालों में ऑक्सीजन (oxygen) की व्यवस्था के लिए ऑक्सीजन लाइन बिछाई गई हैं इससे अस्पतालों में फायर सेफ्टी ऑडिट की और अधिक जरूरत हो जाती है।

यह भी पढ़े.. MP Job Alert 2021: 10वीं पास के लिए इन पदों पर निकली है भर्ती, अच्छी सैलरी, जल्द करें अप्लाई

इस दौरान सीएम शिवराज ने चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग (Medical Education Minister Vishwas Sarang) के कर्तव्यनिष्ठा की तारीफ की। सीएम ने कहा कि सारंग ने घटना की सूचना मिलते ही जो कुछ हो सकता था वह सब किया। मैं भी निवास से लगातार सारंग और डॉक्टरों की टीम के सतत संपर्क में रहकर जानकारी प्राप्त कर रहा था। इन बच्चों के परिजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं हैं घटना में जो घायल हुए हैं उन्हें शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हो यही कामना है।