कोरोना एक्टिव केस 63 हजार के पार, मंत्री विश्वास सारंग ने अधिकारियों को दिए ये निर्देश

विश्वास सारंग

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में पिछले 24 घंटे में सामने आए 11,269 नए केस और 66 लोगों की मौत के बाद संक्रमितों का आंकड़ा 63 के पार पहुंच गया है, जिसने मप्र सरकार (MP Government) की टेंशन बढा दी है। एक तरफ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) बैठकों पर बैठकों कर बड़े बड़े फैसले ले रहे है,  वही दूसरी तरफ चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने निर्देश दिए हैं कि नोड़ल अधिकारियों से लगातार संवाद स्थापित रखा जाये। SDM अपने सर्किल के हॉस्पिटल से संवाद बनाये रखें।

यह भी पढ़े.. MP College Exam 2021: उच्च शिक्षा विभाग का बड़ा फैसला, ओपन बुक प्रणाली से होगी UG-PG की परीक्षाएं

आज चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग (Medical Education Minister Vishwas Sarang) ने स्मार्ट सिटी कार्यालय स्थित सभागार में कोरोना मरीजों के लिए किये जा रहे प्रयासों और ऑक्सीजन (Oxygen) सप्लाई, श्मशान में लकड़ियों की व्यवस्था, रेमडेसिविर इंजेक्शन (Remedicivir Injection) सहित अन्य दवाओं की व्यवस्थाओं की भी समीक्षा की।इस दौरान उन्होंने साफ निर्देश दिए कि  कोई भी मरीज परेशान न हो, इसका ध्यान रखा जाये। जूम मीटिंग के जरिए मरीजों के परिजनों के साथ वार्तालाप हो सके, ऐसा प्रबंध किया जाये।

यह भी पढ़े.. इंदौर में 5 दिन बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू, कलेक्टर ने जारी किए आदेश

मंत्री विश्वास सारंग ने कहा है कि बेड की संख्या में लगातार वृद्धि की जा रही है, जिससे मरीजों को समुचित उपचार मिल सके। होम आइसोलेशन वाले मरीजों का भी आकलन किया गया। बताया गया कि कंट्रोल रूम के माध्यम से आयुष विभाग के डॉक्टर्स की टीम होम आइसोलेशन के मरीजों से लगातार चर्चा कर रही है। श्री सारंग ने निर्देश दिए कि एसएमएस सिस्टम के जरिए पॉजिटिव, नेगेटिव की रिपोर्ट मरीज को जल्दी मिले।बैठक में प्रमुख सचिव खाद्य फैज अहमद किदवई, संभागायुक्त कविंद्र कियावत , भोपाल कलेक्टर (Bhopal Collector) और  डीआईजी  इरशाद वली समेत कई अधिकारी मौजूद रहे।