जानिये इस सेक्स वर्कर की स्टोरी पर बन रही फिल्म का क्यों हो रहा विरोध

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। अपने जमाने की मशहूर सेक्स वर्कर (sex worker) रही गंगूबाई काठियावाड़ी (gangubai kathiawadi) पर बन रही फिल्म का विरोध शुरू हो गया है।संजय लीला भंसाली (sanjay leela bhansali) की इस फिल्म में आलिया भट्ट (alia bhatt) लीड भूमिका में हैं। मुंबई (mumbai) के कमाठीपुरा (kamathipura) के कई निवासियों का दावा है कि भंसाली की फिल्म में दिखाई जा रहे तथ्य गलत है और उनके समाज को बदनाम किये जाने की यह साजिश है।

दरअसल कुछ दिन पहले ही इस फिल्म का टीजर रिलीज हुआ है और इसे काफी पसंद किया जा रहा है। यह फिल्म 30 जुलाई को रिलीज होगी लेकिन उसके पहले ही विवादों में घिर गई है। मुंबई के कमाठीपुरा में रहने वाले कई लोगों का दावा है कि फिल्म के कई तथ्य गलत हैं और उनके समाज को बदनाम करने की साजिश मात्र है। वहां पर कमाठीपुरा की आवाज के नाम से एक संगठन बना हुआ है जिसने फिल्म के खिलाफ खुलकर बोलना शुरू कर दिया है। संगठन का कहना है कि कमाठीपुरा का इतिहास सुधारने में काफी मेहनत रही है और यदि यह फिल्म इस तरह के तथ्यों पर आधारित होकर रिलीज होती है तो वर्तमान के साथ-साथ भावी पीढ़ी पर भी बुरा असर डालेगी। संगठन का कहना है कि फिल्म को रिलीज नहीं होने देंगे और उसके लिए वह लगातार विरोध प्रदर्शन करेंगे। इस प्रदर्शन में महिलाएं और बच्चे भी शामिल होंगे।

क्या है इस फिल्म की कहानी

‘गंगूबाई काठियावाड़ी’, इन दिनों यह नाम सोशल मीडिया (social media) सहित अखबारों और टीवी में सुर्खियों में बना हुआ है। दरअसल अपनी कलात्मक कहानियों, दमदार एक्टिंग और भव्य सेट की लिए मशहूर रहे फिल्मकार संजय लीला भंसाली की फिल्म गंगूबाई काठियावाड़ी रिलीज होने का इंतजार कर रही है। मशहूर लेखक हुसैन जैदी की किताब मे माफिया क्वीन के नाम से जानी जाने वाली गंगूबाई काठियावाड़ी साठ के दशक में हीरा मंडी नाम की जगह पर एक कोठा चलाती थी और जिसने बाद में अपने सामाजिक कार्यों के चलते बदनाम गलियों में अपना एक मुकाम बनाया था और लोग उसे श्रद्धा की दृष्टि से देखते थे।

गंगूबाई काठियावाड़ी की कोठे तक पहुंचने की दास्तान भी दर्द भरी है। गुजरात के काठियावाड़ में रहने वाली संपन्न परिवार की गंगूबाई को 16 साल की उम्र में अपने पिता के अकाउंटेंट रमणीकलाल से प्रेम हो गया। वह अभिनेत्री बनना चाहती थी तो रमणीकलाल के साथ मुंबई भाग आई। लेकिन रमणीक ने उसे धोखा दिया और उसे मात्र 500 रूपये में एक कोठे पर बेच दिया। बचपन में हरजीवनदास के नाम से जानी जाने वाली अब गंगूबाई हो गई और यहां पर उसके रिश्ते अंडरवर्ल्ड से बन गए। अंडरवर्ल्ड डॉन करीम लाला (kareem lala) के गुंडे ने उसके साथ बलात्कार किया। इसकी शिकायत करने वह करीम लाला के पास गई तो करीम लाला ने उसे अपनी मुंह बोली बहन बना लिया और इस तरह उसके रिश्ते अंडरवर्ल्ड से बन गए। धोखे से वेश्यावृत्ति के धंधे में शामिल हुई गंगूबाई ने उन लड़कियों के विकास के लिए बहुत काम किए जो गलती से देह व्यापार में शामिल हुईं।गंगूबाई पहली ऐसी कोठे वाली थीं जिसमें कई शहरों में कोठे की फ्रेंचाइजी खोली। सेक्स वर्करों के घर परिवार के लिए उन्होंने बहुत से काम किए। कई स्कूल खुलवाए, मकान दिए और जीवन यापन का भरोसा भी दिया। बदनाम गलियों में वह देवी के रूप मे पूजी जाती थीं।कहा जाता है कि वह एनकाउंटर की शिकार हुई। इस फिल्म में गंगूबाई की भूमिका आलिया भट्ट निभा रही है और फिल्म 30 जुलाई को रिलीज होगी।