17 मई को केंद्रीय शिक्षा मंत्री की राज्यों के शिक्षा सचिवों के साथ बैठक, हो सकता है बड़ा फैसला

बैठक में केंद्रीय शिक्षा मंत्री ऑनलाइन शिक्षा (Online Education) को बढ़ावा देने के साथ ही नई शिक्षा नीति (New education policy) के क्रियान्वयन की भी समीक्षा करेंगे।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना संकटकाल में शिक्षा और छात्रों (Student) पर बेहद गहरा प्रभाव पड़ा है। राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं (Board Exams 2021) समेत MPPSC, MPPEB, UPSC, NEET समेत कई कॉम्पिटिशन एग्जाम स्थगित किए गए है, जिसके चलते छात्रों के भविष्य पर बड़ा असर पड़ा है, ऐसे में सोमवार 17 मई को केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक (Ramesh Pokhriyal Nishank)  सभी राज्यों के शिक्षा सचिव के साथ एक वर्चुअल बैठक बुलाई है।

यह भी पढ़े… MP Board: नहीं होगी 10वीं की परीक्षा, 12वीं को लेकर सरकार का बड़ा फैसला

इसमें कोरोना संक्रमण की वजह से शिक्षा (Education) पर पड़ रहे प्रभाव की समीक्षा की जाएगी। बैठक में केंद्रीय शिक्षा मंत्री ऑनलाइन शिक्षा (Online Education) को बढ़ावा देने के साथ ही नई शिक्षा नीति (New Education Policy) के क्रियान्वयन की भी समीक्षा करेंगे। केंद्रीय मंत्री प्रदेशों में कोविड-19 की वर्तमान परिस्थितियों, ऑनलाइन शिक्षा (Online Classes) और राष्ट्रीय शिक्षा नीति के कार्यान्वयन पर समीक्षा करेंगे।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert: मप्र के इन जिलों में बारिश की संभावना, इन राज्यों में Tauktae मचाएगा तबाही!

सूत्रों के अनुसार, केंद्रीय मंत्री राज्य के शिक्षा विभागों द्वारा कोविड-19 संक्रमण से निपटने के लिए की गई तैयारी और महामारी के बावजूद छात्र अपनी ऑनलाइन शिक्षा कैसे जारी रख सकते हैं, इसकी भी समीक्षा करेंगे। वर्तमान में कोरोना वायरस की वजह से लगभग देश में सभी स्कूलों (Schoo) कॅालेजों (College) को बंद कर दिया गया है। कुछ स्कूलों में गर्मियों की छुट्टियां चल रही हैंं तो कुछ स्कूल ऑनलाइन कक्षाएं संचालित करवा रहे हैं, लेकिन भविष्य को देखते हुए केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने बैठक बुलाई है।