Electricity : MP में लापरवाही पर बड़ी कार्रवाई, 16 कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त

कंपनी के प्रबंध संचालक  गणेश शंकर मिश्रा ने मैदानी अधिकारियों और कर्मचारियों को निर्देशित किया है कि उपभोक्ताओं के परिसर पर एक्युरेसी (शुद्धता) के साथ मीटर वाचन होना चाहिए।

बिजली

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने बड़ी कार्रवाई की है। बिजली कंपनी ने उपभोक्ताओं की मीटर रीडिंग में लापरवाही बरतने के आरोप में सेवा प्रदाता कंपनी के माध्यम से 16 कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त कर दी है।

यह भी पढ़े.. Sex Racket: होटल में चल रहा था सेक्स रैकेट, आपत्तिजनक हालत में 8 गिरफ्तार, कई सामान भी जब्त

दरअसल, मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी (Central Zone Electricity Distribution Company) ने उपभोक्ताओं की मीटर रीडिंग (electricity meter reading) में लापरवाही बरतने के आरोप में सेवा प्रदाता कंपनी के माध्यम से भिण्ड (Bhind) में कार्यरत 8 मीटर वाचकों एवं मुरैना (Morena) में कार्यरत 8 मीटर वाचकों को सेवा से पृथक कर दिया है। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने बताया है कि मीटर वाचकों द्वारा बिजली उपभोक्ताओं (electricity consumers) के मीटर वाचन में गड़बड़ी के आरोप में सेवा से पृथक किया गया है।

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक  गणेश शंकर मिश्रा ने मैदानी अधिकारियों और कर्मचारियों को निर्देशित किया है कि उपभोक्ताओं के परिसर पर एक्युरेसी (शुद्धता) के साथ मीटर वाचन होना चाहिए और मीटर रीडिंग के आधार पर ही उपभोक्ताओं को विद्युत देयक दिए जाएं। उन्होंने स्पष्ट किया है कि मीटर वाचकों के कार्य पर निष्ठा एप के द्वारा निगरानी रखी जाए और जो मीटर वाचक कर्तव्य पालन में लापरवाही बरत रहे हैं, उन्हें सेवा से पृथक किया जाए।

यह भी पढ़े… Transfer : जनपद पंचायत सीईओ और विकास खंड अधिकारियों के तबादले, देखिये लिस्ट

प्रबंध संचालक ने कहा कि उपभोक्ता सेवा सर्वोपरि है। उपभोक्ताओं को कंपनी बेहतर से बेहतर सेवाएँ देने के लिए कृत संकल्पित है और इसी दिशा में काम किया जा रहा है। उन्होंने उपभोक्ताओं को जागरूक रहने के लिए कहा है कि जब उनके परिसर की मीटर रीडिंग होती है तो वे मीटर वाचक द्वारा ली गई रीडिंग और मीटर में दर्ज रीडिंग पर नजर रखें ताकि सही देयक मिल सके।