जनसंपर्क मंत्री का बड़ा बयान, पानीपत फिल्म विवाद कानूनी तरीके से सुलझाया जाएगा

भोपाल। आशुतोष गोवारीकर की बॉलीवुड अभिनेता अर्जुन कपूर अभिनीत ऐतिहासिक पृष्ठभूमि पर बनी फिल्म ‘पानीपत’ का देश भर में विरोध थम नहीं रहा है। देश भर में जाट समाज के लोग फि़ल्म के खिलाफ सडक़ों पर उतर आए हैं। मध्य प्रदेश में भी फिल्म का भारी विरोध हो रहा है और इसके प्रसारण पर रोक की मांग की जा रही है। इन सब के बीच मप्र के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने का है कि इस विवाद का रास्ता कानूनी तरीके से निकाला जाएगा। 

मध्य प्रदेश में भी जाट समाज के लोगों ने फि़ल्म पानीपत में शिरोमणि राजा सूरजमल के गलत चित्रण का आरोप लगाया है। पानीपत फिल्म के विरोध में प्रदेश के कई जिलों में धरने प्रदर्शन के साथ ही टॉकिजों में तोडफ़ोड़ की घटनाएं सामने आई है। बढ़ते विवाद को देखते हुए मप्र के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा का पानीपत फिल्म को लेकर बयान आया है। गुरुवार को मीडिया से बातचीत करते हुए मंत्री शर्मा ने कहा है कि हम जाट समाज की भावनाओं का सम्मान करते हैं। उन्होंने कहा कि जाट समाज की फिल्म पानीपत को लेकर हो रहे विवाद से मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया है और आगे कानूनी तरीके से कार्रवाई की जायेगी। 

मध्य प्रदेश में माफिया राज पर लगाम लगाए जाने के सीएम के फैसले पर मंत्री शर्मा ने कहा कि कमलनाथ सरकार का एलान है कि सभी तरह के माफिया राज़ को खत्म किया जायेगा। इस संबंध में आज सभी संभागों में मीटिंग भी होगी। किसानों को हो रही यूरिया समस्या पर जनसंपर्क मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश सरकार यूरिया की कमी को पूरा करने के लिए 2 लाख टन अतिरिक्त यूरिया लेगी,जिससे किसानों को राहत मिल सके। प्रदेश में बिजली समस्या के लिए पूववर्ती भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए मंत्री शर्मा ने कहा कि प्रदेश में बिजली समस्या पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की देन है। वहीं नागरिकता संशोधन बिल को उन्होंने एक भेदभाव वाला बिल बताया है। प्रदेश के शासकीस स्कूलों में पढऩे वाले बच्चों की प्रतिभा को उभारने के लिए विभिन्न कार्यक्रमों का अयोजन किया जाएगा। इस संबंध में जानकारी देते हुए मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि प्राइवेट स्कूलों की तरह कार्यक्रम आयोजित होंगे। जिससे छात्रों की छिपी हुई कला और प्रतिभा सामने आएगी। जिससे वे पढ़ाई के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी कामयाबी हासिल कर सकेंगे।