MPPEB : अब पीईबी की परीक्षाओं में गड़बड़ियों पर लगेगी रोक, अभ्यर्थियों को मिलेगा लाभ

एमपीपीईबी एजेंसी अपनी विशेषज्ञता के सहारे प्रभावी प्रौद्योगिकी, सायबर सुरक्षा (Cyber Security) और संसाधनों का प्रबंधन सुनिश्चित करेगी। यह देश में अपनी तरह का एकमात्र संगठन है, जो हर साल बड़े पैमाने पर विभिन्न व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिये प्रतियोगी परीक्षाओं का आयोजन करता है।

PEB

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (MPPEB) की परीक्षाओं (Exam) में होने वाली गड़बड़ियां अब नही होगी। पीईबी (PEB) अब निश्चित समय पर राज्य स्तरीय परीक्षाएं (State Level Exams) करवा सकेगा साथ ही छात्रों (Student) को भी अपने भविष्य (Future) को लेकर चिंता नही होगी। अब पीईबी सुरक्षित ऑनलाइन परीक्षाओं (Online examinations) के लिये सशक्त सेवा प्रदाता का सहयोग लेगा यह एजेंसी ऑनलाइन परीक्षा कराने में 13 वर्ष के अनुभव के साथ भारत की अग्रणी सेवा प्रदाता है।

PEB Exam 2020: पीईबी की परीक्षाएं स्थगित, जाने कब होंगे एग्जाम

दरअसल, एमपीपीईबी की निदेशक शनमुगा प्रिया मिश्रा (MPPEB Director Shanmuga Priya Mishra) ने बताया कि मध्यप्रदेश प्रोफेशनल एक्जाम बोर्ड (Madhya Pradesh Professional Exam Board) विभिन्न कम्प्यूटर पर आधारित परीक्षाओं के संचालन के लिये निष्पक्ष और पारदर्शी प्रक्रिया अपनाने के लिये राष्ट्रीय ख्याति के एक विश्वसनीय सेवा प्रदाता की सेवाएँ लेगा। यह एजेंसी ऑनलाइन परीक्षा कराने में 13 वर्ष के अनुभव के साथ भारत की अग्रणी सेवा प्रदाता है। बीते दिनों जेल प्रहरी परीक्षा, जो 20 नवम्बर (November) से 2 दिसम्बर (December) के बीच आयोजित की जाना थी, उसे अपरिहार्य कारणों से स्थगित कर दिया है। इसकी नई तिथि पृथक से जारी की जायेगी। उन्होंने बताया कि नवीन शेड्यूल की पीईबी वेबसाइट के माध्यम से जानकारी प्राप्त होगी।

यह भी पढ़े..सरकारी नौकरी: पीईबी ने निकाली 863 पदों पर भर्ती, ऐसे करे अप्लाई

एमपीपीईबी एजेंसी अपनी विशेषज्ञता के सहारे प्रभावी प्रौद्योगिकी, सायबर सुरक्षा (Cyber Security) और संसाधनों का प्रबंधन सुनिश्चित करेगी। यह देश में अपनी तरह का एकमात्र संगठन है, जो हर साल बड़े पैमाने पर विभिन्न व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिये प्रतियोगी परीक्षाओं का आयोजन करता है। इसके अलावा पीईबी विभिन्न सरकारी विभागों (Government Departments) एवं सार्वजनिक उपक्रमों में भी राज्य-स्तरीय पदों के लिये भर्ती परीक्षाएँ आयोजित करता है।

यह होगा फायदा
एमपीपीईबी की टीम अब परीक्षा वाले दिन अपने कंट्रोल-रूम में बैठकर सभी गतिविधियों पर नजर रख सकेगी। कंट्रोल-रूम डेशबोर्ड पूरी प्रक्रिया में पारदर्शिता प्रदान करेगा। तकनीकी प्रगति और डिजिटल बदलाव में सेवा प्रदाता की विशेषता के सहारे अतीत में पेश आई विभिन्न चुनौतियों पर अंकुश लगाना संभव हो सकेगा, जिससे आगामी महीनों में लगातार भर्ती परीक्षाएँ निर्विवाद रूप से आयोजित की जायेंगी।

इन परीक्षाओं का आयोजन करवा चुकी है एजेंसी

पीईबी के साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर करने के बाद सेवा प्रदाता ने थोड़े ही समय में संयुक्त रूप से 3 परीक्षाओं का सफल आयोजन किया है, जिनमें प्री-एग्रीकल्चर टेस्ट (पैट) 2020, प्री-वेटरनरी एण्ड फिशरीज एंट्रेस टेस्ट (पीवी एण्ड एफटी) 2020 और डिप्लोमा इन एनिमल हस्बैंड्री प्रवेश परीक्षा (डीएएचईटी) 2020 शामिल है। इन सभी परीक्षाओं को कोविड-19 का पालन कराते हुए 59 हजार 638 उम्मीदवारों ने भाग लिया।