एयरफोर्स की रिटायर्ड विंग कमांडर ने उठाए अग्निपथ योजना पर सवाल

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। सेना में भर्ती के लिए लाई गई अग्निपथ योजना को लेकर देश भर में प्रदर्शन थमने का नाम नहीं ले रहे है। युवा इस योजना के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी बीच भारतीय एयरफोर्स की रिटायर्ड विंग कमांडर अनुजा आचार्य ने भी योजना को लेकर सवाल खड़े किए हैं। भोपाल में एक प्रेस कांफ्रेस में अनुपमा ने इस योजना पर सवाल खड़े किए है।

यह भी पढ़ें… मध्यप्रदेश : नगर सरकार में क्रिमिनल की NO-ENTRY, दिग्विजय ने बताया इसे BJP का स्वांग

रिटायर्ड विंग कमांडर अनुजा आचार्य का मानना है कि केंद्र सरकार द्वारा लाई गई मिशन अग्निपथ योजना के 2 स्टेप होना चाहिए। योजना से दोहरा फायदा होना चाहिए। एक युवा और दूसरा सेना को मगर इससे दोनों को कोई फायदा नही है। उन्होंने कहा कि सेना के लिए इस योजना का फायदा इसलिये नही है कि मिशन अग्निपथ की निरंतरता नहीं है। रिटायर्ड विंग कमांडर अनुजा आचार्य ने कहा कि जो कुछ भी युवाओं को सिखाया जाएगा और जो इन्फॉर्मेशन रहेगी वह 75 प्रतिशत बाहर निकल जाएगी। महज 25 प्रतिशत ही आगे बढ़ पाएंगे। आगे उन्होंने कहा कि सेना को इनके जाने के बाद भी नुकसान होगा क्योंकि 4 साल तक सेना के साथ रहने की वजह से इन लोगों को खुफिया एजेंसी और सभी इंफॉर्मेशन रहेंगी अगर आगे इनको नौकरी नहीं मिलती है तो अन्य लोग इनका दुरुपयोग कर सकते हैं।