भोपाल में लगनी शुरू हुई Sputnik V, एक डोज के देने होंगे इतने रूपए

भोपाल के नोबेल अस्पताल में 9 जुलाई से स्पूतनिक वी टीके के दोष की शुरुआत की गई। पहले दिन यानी 9 जुलाई को स्पूतनिक के 94 डोज लगाए गए।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मप्र (MP) में इंदौर (Indore) के बाद अब भोपाल (Bhopal) में रुसी वैक्सीन स्पूतनिक-V (Sputnik V vaccine ) लगना शुरू हो गई है। इसकी शुरुआत मिसरोद स्थित नोबेल अस्पताल से की गई है। अब व्यक्ति रजिस्ट्रेशन करवा कर 1145 रुपए में इसका डोज लगवा सकते हैं। और सिर्फ 21 दिन बाद ही इसका दूसरा डोज भी लगवा सकते है।

यह भी पढ़ें…Betul : विवाह समारोह से उड़ाया सोने से भरा बैग, CCTV कैमरे में कैद हुआ शातिर चोरों का कारनामा

राजधानी भोपाल के नोबेल अस्पताल में 9 जुलाई से स्पूतनिक वी टीके के डोज की शुरुआत की गई। पहले दिन यानी 9 जुलाई को स्पूतनिक के 94 डोज लगाए गए। वहीं शनिवार तक इसके करीब 200 डोज लगाए जा चुके हैं। आपको बता दें कि रविवार सोमवार और मंगलवार को भी इसके डोज लगेंगे। अस्पताल के डॉक्टर सर्वेश मिश्रा ने बताया की स्पूतनिक को लगवाने के लिए लोग काफी समय से इंतजार कर रहे थे। और शुक्रवार को उन लोगों का इंतजार खत्म हो गया।

1145 रुपए में लगेगा पहला डोज
स्पूतनिक V का पहला डोज 1145 रूपए में लगेगा। जो भी व्यक्ति स्पूतनिक लगवाना चाहता है उसे सबसे पहले को कोविन ऐप पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा । उसके बाद सेंटर जाकर व्यक्ति वैक्सीन लगवा सकता है। बतादें कि ठीक इसी रेट में 21 दिन बाद लोग इसका दूसरा डोज भी लगवा सकते है।

कोवीशील्ड और कोवैक्सीन से अलग स्पूतनिक-V
स्पूतनिक V में डबल वेक्टर आधारित एडिनो वायरस (ह्यूमन) फुल लेंथ स्पाइक प्रोटीन तकनीक से बनाई गई है। वहीं कोवीशील्ड और कोवैक्सिन में सिंगल वेक्टर आधारित एडिनो वायरस (चिंपैंजी) स्पाइक प्रोटीन टेकनीक का इस्तेमाल किया गया है। विशेषज्ञ इसी लिए स्पूतनिक-V को डेल्टा वैरिएंट के लिए अब तक की सबसे इफेक्टिव वैक्सीन बताते हैं। बतादें कि विशेषज्ञों का दावा है कि संक्रमण से बचाव में स्पूतनिक-V 90% तक कारगर साबित है।

यह भी पढ़ें…MPPEB : इंतजार खत्म…12 जुलाई से शुरु होगा जेल प्रहरी भर्ती के लिए फिजिकल टेस्ट