सागर लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई-1 लाख की रिश्वत लेते रंगेहाथों धराया अधिकारी

कार्यपालन अभियंता मप्र पूर्व क्षेत्र टीकमगढ़ ने एक लाख रुपए की रिश्वत की मांग की है। इसमें 50 हजार नकद और 50 हजार चेक के माध्यम से मांगे गए है।

रिश्वत

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के टीकमगढ़ जिले (Tikamgarh District) में लोकायुक्त ने बड़ी कार्रवाई की है। यहां सागर लोकायुक्त (Sagar Lokayukt Team) की टीम ने एक कार्यपालन अभियंता को 1 लाख की रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार किया है।हैरानी की बात तो ये है कि यह रिश्वत चेक के द्वारा मांगी गई थी।यह कार्रवाई एसपी लोकायुक्त रामेश्वर यादव के नेतृत्व में निरीक्षक मंजू सिंह और समस्त स्टाफ के द्वारा की गई है।टीम ने अधिकारी के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।

यह भी पढ़े.. PM Kisan: किसानों के लिए गुड न्यूज, इस दिन जारी होगी किसान सम्मान निधि की 10वीं किस्त!

मिली जानकारी के अनुसार, टीकमगढ़ के रानीगंज थाना दिगौड़ा के निवासी 51 वर्षीय  किशोर सिंह दांगी पिता स्व0 श्री दुर्ग सिंह दांगी ने सागर लोकायुक्त से शिकायत की थी कि अखिलेश प्रसाद त्रिवेदी पिता स्व0 श्री किशोर प्रसाद त्रिवेदी उम्र 61 वर्ष कार्यपालन अभियंता मप्र पूर्व क्षेत्र टीकमगढ़ ने एक लाख रुपए की रिश्वत की मांग की है। इसमें 50 हजार नकद और 50 हजार चेक के माध्यम से मांगे गए है।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, दशहरे से पहले मिलेगा 18 हजार तक का बोनस

इतना ही नहीं यह रिश्वत (Bribe) आवेदक के विरुद्ध तैयार विद्युत चोरी प्रकरण में रिवाईस करने के लिए राहत राशि की आधी राशि रिश्वत के रूप में 1,00,000/- रुपये की मांग की गई थी, जिसके बाद लोकायुक्त ने मामले की जांच की और आज सुबह  आरोपी अधिकारी के किराये का आवास सुभाष कॉलोनी थाना कोतवाली जिला टीकमगढ़ पर आवेदक से रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया।यह कार्रवाई निरीक्षक मंजू सिंह, व समस्त स्टाफ के द्वारा की गई है। कार्रवाई के बाद जिले में हड़कंप मच गया है।

सागर लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई-1 लाख की रिश्वत लेते रंगेहाथों धराया अधिकारी