सिंधिया समर्थक इमरती देवी की हार को लेकर क्या बोले कमलनाथ

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) की 28 सीटों के नतीजे आ चुके है। ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia ) की कट्टर समर्थक इमरती देवी की हार के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) का बड़ा बयान सामने आया है। कमलनाथ ने कहा कि जनता ने तय किया कि इमरती देवी (Imrati Devi) को घर बिठाना है तो उन्होंने किया।

दरअसल, मध्य प्रदेश की 28 सीटों पर उपचुनाव के नतीजे आने के बाद आज बुधवार को कमल नाथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलने पहुंचे थे। मुलाकात के बाद नाथ मीडिया से चर्चा के दौरान जब  इमरती देवी की हार को लेकर सवाल किया गया तो कमलनाथ  ने कहा कि जनता ने तय किया कि इमरती देवी को घर बिठाना है तो उन्होंने किया।वही ग्वालियर-चंबल में कांग्रेस की बड़ी बढ़त पर सिंधिया का नाम लिए बगैर कहा कि उन्हें समीक्षा करनी चाहिए। परिणामो को लेकर कहा कि आज हमने बैठक बुलायी है , उसमें हम परिणामो की समीक्षा करेंगे।वही

वही उन्होंने बताया कि मैंने शिवराज सिंह चौहान जी को विश्वास दिलाया है कि कांग्रेस विपक्ष के सभी दायित्व को पूरा करेगी और विकास की तरफ बढ़ने वाले प्रदेश के साथ हमेशा खड़ी रहेगी। कमलनाथ ने कहा है कि मैं शिवराज सिंह को जीत की बधाई देता हूं और मैंने कहा है कि आज प्रदेश में कई चुनौतियां हैं हम साथ मिलकर उन चुनौतियों का सामना करेंगे। मैने उन्हें कहा है कि आज प्रदेश के सामने कई चुनौतियां है बेरोजगारी की ,कृषि क्षेत्र कीऔर  विश्वास दिलाया हैं कि विपक्ष की तरफ से प्रदेश के विकास में कोई अडचन आने नहीं दी जाएगी।

आपको बता दे कि आज सभी विधायकों, हारे हुए प्रत्याशी के साथ ही उपचुनाव के सभी प्रभारियों और कांग्रेस उम्मीदवारों को भी बैठक में अनिवार्य रूप से पहुंचने के निर्देश दिए हैं।इसमें पार्टी हार के कारण और कांग्रेस की उम्मीद से विपरीत नतीजे आने की वजहों पर मंथन की जाएगी। कांग्रेस के लिए क्या हानिकारक साबित हुआ और कहां पर उप चुनाव में चूक हुई।

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश की सबसे चर्चित मानी जाने वाली डबरा विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे ने शिवराज सरकार (Shivraj Government)में बाल विकास मंत्री इमरती देवी को 7663 वोटों से हराया है। इमरती देवी राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की सबसे कट्टर समर्थकों में से एक मानी जाती हैं और पूरे उपचुनाव के प्रचार के दौरान वह अपने बयानों से सुर्खियों में रही थी। खास बात तो ये है कि डबरा में प्रचार के दौरान कमलनाथ ने उन्हें आइटम कहकर भी संबोधित किया था, जिसके बाद खूब बवाल भी मचा, बीजेपी चुनाव आयोग और हाईकोर्ट पहुंच गई थी जिसके बाद आयोग ने कार्रवाई करते हुए कमलनाथ से स्टार प्रचारक का भी दर्जा छीन लिया गया था। वही इस मुद्दे को बीजेपी ने बड़े जोर शोर से पूरे प्रदेश की सीटों पर महिलाओं का अपमान कहकर भुनाया था।इसके अलावा बीजेपी के कई दिग्गजों ने अपनी सभाओं में भी इसे आधार बनाकर कांग्रेस (Congress) को घेरने की कोशिश की थी, लेकिन जनता पर सब बेसअर हुआ और इमरती देवी को करारी हार का सामना करना पड़ा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here