राजधानी में बेलगाम हुए बदमाश, मामूली बात पर युवक पर जानलेवा हमला

Youth-attacked-in-capital

भोपाल। राजधानी में बदमाश बेलगाम हो चुके हैं। बीती रात कबाडख़ाना इलाका गोलियों की गूंज से दहल गया। जहां एक बदामश ने मामूली कहा सुनी के बाद में पूर्व परिचित पर दो राउंड फायर कर लिए। हमले में फरियादी बाल-बाल बच गया। पुलिस ने मामले में हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज किया है। आरोपी युवक की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

पुलिस के अनुसार मोहम्मद रिजवान पिता नफीस मोहम्मद खान (43) निवासी जिंसी जहांगीराबाद कबाडख़ाना में क्रेन आपरेटर है। बीती रात करीब आठ वजे वह मुजाहिद भाई की दुकान न्यु कबाडख़ाना में खड़े एक व्यक्ति से बात कर रहे थे। तभी वहां आरोपी रजि उर्फ आशु पिता नफीस पहुंचा। किसी पुराने विवाद के कारण उसने रिजवान से बदसलूकी शुरू कर दी। दोनो में जमकर बहसबाजी हो गई। आरोपी उसे धमकी देकर मौके से चला गया। कुछ देर बाद में आरोपी एक देशी पिस्टल लेकर एक्टिवा क्रमांक एमपी 04 वीडी 5850 से दोबारा मुजाहिद भाई की दुकान पहुंचा। बदमाश ने वहां रिजवान पर सामने से दो राउंड फायर किए। गोली चलते ही रिजवान जान बचाने के लिए झुक गए। जिससे दोनों गोलिंयां उनके सिर के ऊपर से गुजर गई। लोगों ने आरोपी को पकडऩा चाहा। तभी आरोपी पिस्टल लहराता हुआ अपनी एक्टिवा पर बैठकर फरार हो गया। बाद में फरियादी ने थाने पहुंचकर प्रकरण दर्ज करा दिया। लोागों का कहना है कि आशु कबाडख़ाना में अकसर अड़ीबाजी करता है। वह पुराना बदमाश है।