प्रद्युम्र सिंह के दो सुरक्षाकर्मी पॉजिटिव, पूर्व विधायक, डिस्ट्रिक्ट हेल्थ ऑफिसर सहित 26 नए केस

छतरपुर, संजय अवस्थी। जिले में कोरोना वायरस संक्रमण की रफ्तार दिन-प्रतिदिन बेलगाम होती जा रही है। सभी तरह के प्रतिबंध हटने, आवाजाही के रास्ते खुलने और राजनैतिक गतिविधियों के बढऩे के कारण सितम्बर के महीने में यह वायरस तेजी से लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है।

बुधवार को एक बार फिर जिले में 26 नए संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई। इनमें से 17 मरीज छतरपुर शहर के रहने वाले हैं। नए संक्रमितों में सागर रोड पर रहने वाले भाजपा के पूर्व विधायक, महोबा रोड पर रहने वाले जिला स्वास्थ्य अधिकारी और मिशन अस्पताल के दो चिकित्साकर्मी भी शामिल हैं। इसके साथ ही बुधवार को शहर के ही कड़ा की बरिया मोहल्ले में रहने वाली एक 65 वर्षीय महिला ने कोरोना संक्रमण के कारण अपनी जान गवां दी। जिले में वायरस के संक्रमण से होने वाली यह 23वीं मौत है।

दो दिन में चली गई संक्रमण से जान
शहर के कड़ा की बरिया मोहल्ले में ग्राम कुसमा के एक सोनी परिवार की 65 वर्षीय महिला को 14 सितम्बर को कोरेाना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। डायबिटीज और ब्लड प्रेशर की शिकार महिला को सर्दी, जुकाम और बुखार के बाद रेपिड किट से की गई जांच के बाद संक्रमित पाया गया था। इसके बाद उन्हें जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था। 15 सितम्बर की रात वो पूरी तरह ठीक थीं लेकिन 16 सितम्बर की सुबह वे अपने बिस्तर पर मृत पायी गईं। परिवार के लोगों ने इलाज में लापरवाही के आरोप लगाए हैं तो वहीं स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि पुराने रोगों के साथ कोरोना संक्रमण और घबराहट के कारण उनकी जान गई है।

यहां मिले 26 नए संक्रमित मरीज
बुधवार को सागर मेडिकल कॉलेज से आए 233 सेम्पल के नतीजों में 20 मरीज पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि रेपिड एंटीजन किट के द्वारा हुई जांचों में 4 मरीजों की पुष्टि हुई। इसी तरह अस्पताल की ट्रू नॉट मशीन से भी दो मरीज पॉजिटिव पाए गए। सागर से आए नतीजों में सागर रोड पर रहने वाले 55 वर्षीय भाजपा के पूर्व विधायक पॉजिटिव मिले, इसी तरह डीएचओ एवं महोबा रोड पर रहने वाले एक 45 वर्षीय चिकित्सक में भी संक्रमण की पुष्टि हुई। मिशन अस्पताल की 29 वर्षीय नर्स एवं 29 वर्ष स्वास्थ्यकर्मी मे भी संक्रमण मिला, शहर के ग्रीन एवेन्यू कॉलोनी में रहने वाले एक जैन परिवार के 37 वर्षीय पुरूष और 34 महिला महिला पॉजिटिव पाए गए। इसी कॉलोनी की 9 वर्षीय बच्ची भी संक्रमित मिली है। कृष्णा कॉलोनी नारायणपुरा रोड पर चौरसिया परिवार के 6 सदस्य संक्रमित मिले हैं। शांतिनगर कॉलोनी में भी 17 वर्षीय युवक, बजरंगनगर कॉलोनी में 17 वर्षीय युवक, डेरा पहाड़ी पर जैन परिवार के 4 सदस्य पॉजिटिव पाए गए हैं। छतरपुर के अलावा मातगुवां, घुवारा, हरपालपुर में एक-एक मामला और बड़ामलहरा में 3 मामलों की पुष्टि हुई है। झांसी-खजुराहो फोरलेन निर्माण कर रही पीएनसी कंपनी के 24 वर्षीय कर्मचारी में भी संक्रमण पाया गया है।

प्रद्युम्र सिंह के गनर पॉजिटिव निकले
कोरोना वायरस को लेकर एक हड़कंप मचाने वाली खबर बुधवार को तब सामने आई जब पता लगा कि बड़ामलहरा के पूर्व विधायक और नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष प्रद्युम्र सिंह के दो सुरक्षाकर्मी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। हालांकि दोनों सुरक्षाकर्मी मंगलवार को ग्राम लिधौरा में आयोजित मुख्यमंत्री की सभा के दौरान प्रद्युम्र सिंह के साथ नहीं थे लेकिन चिंताजनक बात ये है कि कोई भी कोरोना वाहक दूसरे दिन से 10वें दिन के बीच तक कई लोगों को संक्रमित कर सकता है। दोनों सुरक्षाकर्मियों ने बुधवार को बड़ामलहरा में रेपिड किट से अपनी जांच कराई। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक दोनों सुरक्षाकर्मी बदन दर्द, सिर दर्द, सर्दी जुकाम और बुखार से पीडि़त थे। एक सुरक्षाकर्मी प्रद्युम्र सिंह का गनर है जबकि एक अन्य सुरक्षाकर्मी दूसरी गाड़ी में चलता है। इसके साथ ही बड़ामलहरा की शराब दुकान पर काम करने वाला एक कर्मचारी भी पॉजिटिव पाया गया है। अब प्रशासन इन सबकी कॉन्टेक्ट हिस्ट्री खंगाल रहा है।

10 मरीजों की हुई अस्पताल से छुट्टी
बुधवार को एक ओर जहां 26 नए संक्रमित मिले तो वहीं जिले के अलग-अलग कोविड सेंटर में भर्ती 10 संक्रमितों ने वायरस को परास्त कर इस पर जीत पायी। कोविड केयर सेंटर महोबा रोड से 4, बड़ामलहरा से 3, जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड से 3 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। जिले में अब तक 737 लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं।

फैक्ट फाइल
कुल संक्रमित -971
एक्टिव केस – 211
डिस्चार्ज हुए – 737
मौतें – 23
सेम्पल – 23627
रिकवरी रेट – 76.21

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here