Sex Racket: मप्र में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, आपत्तिजनक हालत में मिले लड़के-लड़कियां, गिरफ्तार

मौके पर पहुंची पुलिस ने एक कार, कुछ अश्लील फोटोग्राफ (Photo) सहित मोबाइल जब्त किए गए हैं। जिसमें ग्राहकों को लड़कियों की भेजी जाने वाली फोटो, चैटिंग और अकाउंट डिटेल मिली है। इसके अलावा मकान से कई आपत्तिजनक उपकरण भी बरामद किए गए हैं।

sex-racket

छतरपुर, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में एक बार फिर से बड़े सेक्स रैकेट (sex racket) का खुलासा हुआ है। पुलिस ने रेड (raid) मारते हुए तीन महिला और तीन पुरुषों को आपत्तिजनक हालत में गिरफ्तार (arrest) किया है। पुलिस ने सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ करते हुए तीनों महिला और पुरुष को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश करते हुए आगे की कार्रवाई शुरू की है।

दरअसल जानकारी के मुताबिक मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के सिविल लाइन थाना क्षेत्र के दुर्गा कॉलोनी के एक मकान पर पुलिस द्वारा छापेमारी कार्रवाई की गई। आपत्तिजनक हालत में तीन पुरुष और 3 महिलाओं को गिरफ्तार किया गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने एक कार, कुछ अश्लील फोटोग्राफ (Photo) सहित मोबाइल जब्त किए गए हैं। जिसमें ग्राहकों को लड़कियों की भेजी जाने वाली फोटो, चैटिंग और अकाउंट डिटेल मिली है। इसके अलावा मकान से कई आपत्तिजनक उपकरण भी बरामद किए गए हैं।

पुलिस ने बताया कि इस सामान से अंदेशा लगाया जा रहा है कि देह व्यापार (Body trade) का यह कारोबार ऑनलाइन ट्रांजैक्शन (Online transaction) के माध्यम से किया जा रहा था। जिसके बाद पुलिस की जांच की जा रही है। पुलिस ने कहा कि लोगों को व्हाट्सएप (whatsapp) के माध्यम से अकाउंट नंबर भेजा जाता था और खाते में पैसे मंगाए जाते थे। इसके अलावा व्हाट्सएप पर ही लड़कियों की फोटो लोगों को दिखाई जाती थी। बताया जा रहा है कि पकड़ी गई लड़कियां मुंबई जैसे शहरों से मध्य प्रदेश बुलाई गई है।

Read More: लाखों कर्मचारियों को मिलेगा तोहफा! सरकार लेने जा रही ये बड़ा फैसला

इस मामले में डीएसपी शशांक जैन (DSP Shashank Jain) का कहना है कि सिविल लाइन थाना दुर्गा कॉलोनी से लगातार शिकायत आ रही थी कि एक महिला एकांत में अपने मकान में लगातार सेक्स रैकेट (sex racket) चला रही है। इसकी जानकारी पुलिस को उपलब्ध कराए जाने के बाद पुलिस ने छापामार कार्रवाई की और तथ्यों को सही पाया है। मामले में डीएसपी जैन का कहना है कि एसपी के निर्देशन में टीम गठित की गई है। जिसमें CSP-DSP महिला प्रकोष्ठ सहित सिविल लाइन टीआई द्वारा एक टीम बनाई गई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। अब तक 3 महिला को आपत्तिजनक स्थिति में तीन पुरुषों के साथ पकड़ा गया है।

जिसने बताया की जांच में जो तथ्य सामने आए हैं। उससे यह तो पता है कि व्हाट्सएप नंबर पर फोटो भेज कर परमानेंट ग्राहकों को लड़कियों की फोटो दिखाई जाती थी और खाते में पैसे मंगाए जाते थे। अभी हम खातों की जांच कर रहे हैं। इसके साथ ही जो लड़कियां पकड़ी गई है। उन्होंने अपना पता मुंबई बताया है। हालांकि सेक्स रैकेट चलाने वाली महिला छतरपुर की है और वह भी एक दो बार सेक्स रैकेट में पकड़ी जा चुकी है। पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है।