Chhindwara : आदिवासी समाज फूंक रहे थे कमलनाथ का पुतला, पुलिस की समझाइश के बाद किया कार्यक्रम को स्थगित

आदिवासी समाज के सगठंन द्वारा प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) का पुतला दहन करने के कार्यक्रम की शुरुआत की, पर एसडीएम और पुलिस प्रशासन के समझाने के बाद पुतला दहन कार्यक्रम को स्थगित किया गया।

छिंदवाड़ा, विनय जोशी। छिंदवाड़ा (Chhindwara) में विगत 15 दिनों से तामिया मे अखिल भारतीय गोडवाना पार्टी के बैनर तले धरने में बैठे है। और शुक्रवार को समस्त आदिवासी समाज के सगठंन द्वारा प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) का पुतला दहन करने के कार्यक्रम की शुरुआत की, पर एसडीएम और पुलिस प्रशासन के समझाने के बाद पुतला दहन कार्यक्रम को स्थगित किया गया।

यह भी पढ़ें… आंगनवाड़ी केन्द्र में बेटे का मनाया ऐसा मनाया जन्मदिन, मां की आंखों से झलक आए आंसू

तत्कालीन महिला थाना प्रभारी ऐक्टो्सिटी एक्ट को लेकर एफआईआर पर अड़े आदिवासी समाज के कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष का पुतला दहन को लेकर सुबह से ही कांग्रेस और प्रशासन परेशान थे। पुतला दहन के पूर्व ही प्रशासन की और से जुन्नारदेव एसडीएम और डीएसपी ने जिला अधिकारीयों से टीम बनाकर बातचीत करने का निवेदन किया। जिसके बाद अखिल भारतीय गोडवाना पार्टी ने पुतला दहन कार्यक्रम को स्थगित किया। जिला अध्यक्ष ने कहा कि आगे भी धरना जारी रहेगा। जब तक महिला थाना प्रभारी प्रीति मिश्रा पर कार्रवाई की मागं को लेकर डटे हुऐ है। वहीं जुन्नारदेव एसडीएम ने धरना स्थल जाकर आंदोलनकारियों से बात चीत कर समझाया और एक प्रतिनिधिमंडल को अपने उच्चाधिकारियों से चर्चा कर अपनी मांग रखने का निवेदन किया।