आदिवासी रंग में रंगे CM शिवराज, जनजातीय समुदाय के लोगों के साथ झूमकर किया पारंपरिक नृत्य

मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज जनजातीय संग्रहालय में कला प्रदर्शनी का शुभारंभ किया। इस दौरान वे आदिवासी रंग में रंगे नजर आए और जनजातीय समुदाय के साथ पारंपरिक नृत्य किया।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) 15 नवंबर को भोपाल आ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वागत की तैयारियों में जुटे हुए हैं। सीएम खुद हर कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा ले रहे हैं। इसी बीच आज रविवार को जनजातीय दिवस के एक दिन पहले सीएम शिवराज राजधानी स्थित जनजातीय संग्रहालय पहुंचे जहां वे जनजातीय समुदाय के लोगों साथ उनके ही रंग में रंगते नजर आए। इस दौरान सीएम चौहान पारंपरिक वेशभूषा में विभिन्न जनजातियों के वाद्य यन्त्र बजाते दिखे और जनजातीय समुदाय के लोगों के साथ झूमकर नृत्य करते भी नजर आए।

ये भी देखें- बाल कांग्रेस पर नरोत्तम का कटाक्ष, दिग्गी-कमलनाथ जैसे होंगे टीचर तो कैसे होंगे एडमिशन!

दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज सुबह राजधानी भोपाल में स्‍थित जनजातीय संग्रहालय पहुंचे जहां उन्होंने जनजातीय नायकों पर केंद्रित ‘जनजातीय रणबांकुरे’ चित्र वीथिका का लोकार्पण कर अवलोकन किया। इस दौरान उनके साथ प्रदेश की पर्यटन एवं संस्‍कृति मंत्री ऊषा ठाकुर समेत संस्‍कृति विभाग के आला अधिकारी भी मौजूद रहे। इस अवसर पर आदिवासी समुदाय के प्रतिनिधियों ने उनका पारंपरिक ढंग से स्‍वागत किया जिसमें सीएम खुद भी आदिवासी रंग में रंगे नजर आए। सीएम ने इस अवसर पर 15 नवंबर को जंबूरी मैदान पर आयोजित होने जा रहे जनजाति गौरव दिवस कार्यक्रम में प्रस्तुति देने वाले प्रदेशभर के लगभग 700 आदिवासी कलाकारों से भी संवाद किया। इस दौरान उन्‍होंने आदिवासी कलाकारों के साथ मांदल की थाप पर उनके साथ कदम से कदम मिलाए और पारंपरिक नृत्य किया।