बाढ़ प्रभावित श्योपुर जिले के गांवों के लिए सीएम शिवराज ने की ये बड़ी घोषणा

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि आप संकट में थे, तो मैं भी चैन की नींद नहीं सोया।

श्योपुर, डेस्क रिपोर्ट। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan)और श्योपुर-मुरैना संसदीय क्षेत्र के सांसद एवं केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने श्योपुर (Sheopur) नगरपालिका के मैरिज गार्डन में गुरुवार को बाढ़ प्रभावित लोगों से मुलाकात कर उन्हे ढांढस बंधाया तथा हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस अवसर पर कहा कि श्योपुर शहर सहित सभी प्रभावित ग्रामों का पुनर्निर्माण कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि संकट बडा है, पर सरकार आपके साथ खडी है। चिंता की कोई बात नही है। इस संकट से हम जरूर उबरेंगे। शासन, प्रशासन सब प्रकार की व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर रहा है। उन्होंने तात्कालीक रूप से सहायता करने वाले श्योपुर के विभिन्न समाजसेवियों, व्यापारियों आदि के प्रति धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि जिसका भी नुकसान हुआ है, हर एक की मदद की जावेगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि आप संकट में थे, तो मैं भी चैन की नींद नहीं सोया।

मुख्यम्नत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan)ने कहा कि नुकसान का सर्वे पारदर्शितापूर्ण तरीके से कराये जाने के निर्देश दे दिये गये है। कोई भी प्रभावित छूटना नहीं चाहिए। चाहे सर्वे दो बार तीन बार करना पड़े। प्रशासन को कहा गया है कि उदारतापूर्वक सर्वे का कार्य किया जावे। जिनके मकान टूटे हैं अथवा ध्वस्त हो गये हैं उन्हें  मकान बनाने के लिए 01 लाख 20 हजार रुपये की राशि दिये जाने का प्रावधान किया है। यह राशि ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के प्रभावितों को दी जावेगी। 06-06 हजार रुपये की राशि तात्कालिक रूप से आवास व्यवस्था तथा गृहस्थी के सामान के लिए 05-05 हजार रुपये की राशि दी गई है।

ये भी पढ़ें – MP News: कोरोना की नई गाइडलाइन 31 अगस्त तक रहेगी प्रभावी, आदेश जारी

सीएम शिवराज (Shivraj Singh Chauhan)ने कहा कि फसलों के नुकसान के लिए सर्वे कराया जावेगा तथा क्षति का आंकलन कर नुकसान की भरपाई की जावेगी।  किसी भी व्यक्ति की राहत राशि में से कोई भी बैंक किसी भी प्रकार की राशि नहीं काटेगा। ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए उन्होंने कलेक्टर शिवम वर्मा को निर्देशित किया। बाढ़ प्रभावित व्यापारियों से चर्चा के बाद उन्होंने कहा कि जिन व्यापारियों, दुकानदारों का पानी के कारण नुकसान हुआ है उनके लिए भी कुछ ना कुछ रास्ता निकाला जायेगा। व्यापार फिर से  चालू करने के लिए बैंक ऋण उपलब्ध कराये जायेंगे तथा ब्याज की राशि शासन द्वारा वहन की जायेगी। शहर की जो निचली बस्तियां एवं ग्रामीण क्षेत्र के ऐसे गांव जो डूब क्षेत्र में संभावित हैं उन्हें उपयुक्त  जमीन देकर बसाने की कार्यवाही की जावेगी। सामुदायिक एवं सामूहिक निर्माण से बाढ़ प्रभावित अपनी स्वैच्छा से शासन द्वारा प्रदत्त राशि के माध्यम से अपने आवास विकसित कर सकते हैं । जिस कारण निर्माण कार्य में लागत कम आयेगी।

ये भी पढ़ें – Gold Silver Rate: सोने चांदी की कीमतों में गिरावट, जानिए आज क्या रहे भाव

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने दिलाया मदद का भरोसा 

इस मौके पर मौजूद क्षेत्रीय सांसद एवं केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने कहा कि श्योपुर एवं शिवपुरी जिलों में अन्य जिलों की अपेक्षा अतिवृष्टि एवं बाढ़ का अधिक प्रभाव रहा है। हजारों लोग प्रभावित हुए है तथा व्यापारियों, दुकानदारों को नुकसान हुआ है। सरकार सबकी मदद कर रही है। उन्होंने कहा की मुख्यमंत्री जी ने मेरे निवेदन पर तत्काल रूप से इन्दौर, ग्वालियर, मुरैना आदि स्थानों से उपकरण एवं मशीनरी तथा सफाई कर्मचारियों को श्योपुर भेजकर राहत पहुंचाने का कार्य किया है। स्थिति सामान्य होने में समय लगेगा फिर भी सभी प्रकार की व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जा चुकी हैं । भोजन, खाद्यान, कपडे, दवाईयां एवं नगद राशि सभी प्रदाय किये जा रहे हैं। साफ-सफाई का कार्य भी त्वरित गति से कराया जा रहा है।

ये भी पढ़ें – शिवराज ने सिंगल क्लिक के जरिये बाढ़ प्रभावितों को दी राहत राशि, “बोले चिंता नहीं करना”

बच्चों के लिए 5 हजार ड्रेस महिलाओं के लिए 10 हजार साड़ियां दी  

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं केन्द्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर द्वारा सभी प्रभावितों के बीच पहुंचकर उनकी समस्याओं को सुना तथा हर संभव मदद का भरोसा दिलाते हुए अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। साथ ही अपने साथ लाई गई राहत सामग्री छोटे बच्चों के लिए 05 हजार ड्रेस तथा 10 हजार साड़ियां बाढ़ पीड़ितों तक पहुंचाने के लिए प्रदाय की गई। उन्होंने  नगरपालिका  के मैरिज गार्डन राहत शिविर में निवास कर रहे बाढ़ प्रभावितों से भेंट की तथा उन्हें हर संभव मदद का भरोसा दिलाते हुए ढांढस बंधाया। इस दौरान उन्होंने श्रीमती ललिता बाई पत्नी महावीर रजक निवासी बाल्मिकी मोहल्ला, श्रीमती पाना बाई पत्नी सियाराम निवासी वार्ड 06,  शंकर बाल्मिक निवासी हरिजन बस्ती वार्ड 02 एवं  फारूक अब्बासी निवासी वार्ड 02 आदि प्रभावितों से मिलकर बातचीत की तथा उनकों शिविर में मिल रही सुविधाओं का अवलोकन किया।

5 हितग्राहियों को प्रतिकात्मक रूप से स्वीकृति पत्र दिये

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान एवं केन्द्रीय मंत्री  नरेन्द्र सिंह तोमर ने कार्यक्रम में सरोदा एवं बहरावदा के 5 हितग्राही श्यामबाबू, रघुवीर, रामभजन, दिनेश मीणा, कैलाशी बाई को आवास, गृहस्थी का सामान, मकान, किराया आदि के लिए प्रत्येक को एक लाख, 12 हजार 470 रूपयें की राशि के स्वीकृति पत्र प्रतिकात्मक रूप से प्रदान किये गये। इसके पूर्व श्योपुर एनआईसी कक्ष में अन्य जिलो के साथ श्योपुर जिले के 1869 हितग्राहियों के खाते में 5 करोड़ 40 लाख 69 हजार 900 रूपये की राशि अतंरित की गई।

बाढ़ प्रभावित श्योपुर जिले के गांवों के लिए सीएम शिवराज ने की ये बड़ी घोषणा बाढ़ प्रभावित श्योपुर जिले के गांवों के लिए सीएम शिवराज ने की ये बड़ी घोषणा