मध्य प्रदेश में कोरोना की मार तेज, गुजरात, भिलाई से 450 मेट्रिक टन ऑक्सीजन की उम्मीद

गुरुवार को मध्य प्रदेश में 10,166 कोविड संक्रमित (covid infected) मरीज पाए गए। आपको बता दें कि पिछले साल से लेकर अब तक एक दिन में आने वाला कोरोना का ये सबसे खतरनाक आंकड़ा है।

मध्य प्रदेश

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में कोरोना (corona) की रफ्तार बेहिसाब बढ़ती जा रही है। स्थिति काफी गंभीर (serious) हो चुकी है और आंकड़े दिन प्रतिदिन विकराल होते जा रहे हैं। गुरुवार को मध्य प्रदेश में 10,166 कोविड संक्रमित (covid infected) मरीज पाए गए। आपको बता दें कि पिछले साल से लेकर अब तक एक दिन में आने वाला कोरोना का ये सबसे खतरनाक आंकड़ा है। सरकार (government) के तमाम प्रयासों के बाद भी संक्रमण की रफ्तार कम नहीं हो रही। ऐसे में कोरोना संक्रमितों के लिए ऑक्सीजन (oxygen) सबसे अहम भूमिका निभा रही है। इसी को ध्यान में रखते हुए मध्य प्रदेश सरकार को गुजरात (gujarat) और भिलाई (bhilai) से 450 मेट्रिक टन ऑक्सीजन मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।

यह भी पढ़ें… पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव, लोगों से की अपील

दरअसल कोरोना के भयावह आंकड़ों को देखते हुए मध्य प्रदेश सरकार बचाव हेतु हर सम्भव प्रयास में लगी हुई है। राज्य के हवाई जहाज आदि के माध्यम से रेमेडिसिवीर भी राज्य के छोटे बड़े शहरों में पहुंचाया जा रहा है। सीएम शिवराज ने खुद उत्पादकों से बात करके ये सुनिश्चित किया कि प्रदेश में कोरोना संबंधित किसी भी उपाय की कमी न हो। मध्य प्रदेश को 42,000 रेमेडिसिवीर के इंजेक्शन मिल चुके हैं। वहीं राज्य सरकर ने 50,000 और रेमेडिसिवीर इंजेक्शन की मांग की है।

इसी बीच ऑक्सीजन की मांग को देखते हुए मध्य प्रदेश सरकार ऑक्सीजन की पूर्ति हेतु भी प्रयासरत है। खबर है कि मध्य प्रदेश को कुल 450 मेट्रिक टन ऑक्सीजन मिलने की उम्मीद है। जिसमे 120 मेट्रिक टन ऑक्सीजन गुजरात तो वहीं 112 मेट्रिक टन ऑक्सीजन भिलाई से मिलने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें… कोरोना से चरमराई अर्थव्यवस्था, शिवराज सरकार इस साल भी लेगी 50 हजार करोड़ रूपए का कर्ज

राज्य में मात्र 2 दिन में कोरोना से 104 मौतें सामने आई हैं। इस महीने की शुरुआत से अब तक 78, 007 नए मामले और 379 मौतें हो चुकी हैं। राज्य के बड़े शहर जैसे इंदौर में एक्टिव केसेस की संख्या 10, 351 तो वहीं भोपाल में 7,314 एक्टिव केस मिले हैं। जबकी भोपाल में गुरुवार को 8 मौते हुई जो राज्य के किसी भी शहर से सबसे ज़्यादा हैं इसके बाद इन्दौर और जबलपुर में 6-6 मौते सामने आई हैं। वहीं गुरुवार को 3, 970 लोगों ने कोरोना को शिकस्त दे दी।