डबरा, सलिल श्रीवास्तव। इंदौर पुलिस द्वारा बर्बरतापूर्वक युवक की पिटाई का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था कि डबरा में पुलिस का अमानवीय चेहरा देखने को मिला है। आरोप है कि छेड़छाड़ के मामले में बंद एक आरोपी की पुलिस (SI) द्वारा बेरहमी से पिटाई की गई। जब आरोपी को एमएलसी के लिए ले जाया गया तो मामला उजागर हुआ। फिलहाल वरिष्ठ अधिकारी मामले से अनिभिज्ञता जता रहे हैं साथ ही यह भी कह रहे हैं कि यदि कोई दोषी होगा तो उस पर कार्रवाई की जाएगी।

ये भी देखिये – VIDEO VIRAL: इंदौर पुलिस का शर्मनाक चेहरा- मासूम के सामने पिता की बेरहमी से पिटाई

राजीव दुबे नाम के युवक ने थाने के डबरा एसआई देवेंद्र लोधी पर मारपीट के गंभीर आरोप लगाए हैं। डबरा थाने में छेड़छाड़ के मामले में बंद युवक राजीव दुबे के साथ पुलिस ने मारपीट की इस मामले का खुलासा तब हुआ जब जेल भेजने के लिये उसे मेडिकल हेतु हॉस्पिटल पहुंचाया गया। इस मामले की जानकारी मीडिया को भी लग गई और जब पत्रकार हॉस्पिटल पहुंचे तो साफ तौर पर दिख रहा था कि युवक की बेरहमी से पिटाई की गई है। युवक के चेहरे और पीठ पर चोट के निशान साफ दिखाई दे रहे थे। राजीव दुबे का कहना है कि उसे थाने में पदस्थ एसआई देवेंद्र लोधी ने पीटा है।

इस मामले में अधिकारियों से बात की तो सभी ने पल्ला झाड़ लिया और मामले से अनभिज्ञता जाहिर की। लेकिन जब एसडीओपी विवेक शर्मा से बात की तो उनका कहना था कि मुझे जानकारी नहीं है पर यदि युवक की मारपीट की गई है तो गलत है और यदि जेल भेजने के दौरान उसके शरीर पर चोटों के निशान का जिक्र नहीं किया तो यह जांच का विषय होगा। उन्होने कहा कि दस्तावेज देखने के बाद ही स्पष्ट तौर पर कुछ कहा जा सकता है, फिर भी यदि कोई दोषी होगा तो उसपर कार्रवाई की जाएगी।