पैसों के लेनदेन के विवाद में चाकू मार उतरा था मौत के घाट, दमोह पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

मौत के बाद जहां पुलिस ने धाराओं में इजाफा किया। वहीं फरार आरोपी को भी पुलिस ने गिरफ्तार भी कर लिया है।

दमोह, गणेश अग्रवाल। दमोह (Damoh) पुलिस ने कोतवाली अंतर्गत हुई एक हत्या (murder) के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। दरअसल आरोपी द्वारा पीड़ित को पैसों के लेनदेन के विवाद में चाकू मारकर घायल कर दिया था। वही पीड़ित की इलाज के दौरान मौत हो गई थी। मौत के बाद जहां पुलिस ने धाराओं में इजाफा किया। वहीं फरार आरोपी को भी पुलिस ने गिरफ्तार भी कर लिया है।

यह भी पढ़ें…शिवपुरी : लोगों में अभी भी वैक्सीन की दहशत, तहसीलदार की लाख समझाइश के बाद भी बुजर्ग ने नहीं कराया वैक्सीनेशन

जानकारी के अनुसार दमोह के नूरी नगर निवासी शोएब पठान को कसाई मंडी निवासी आफताब कुरेशी ने चाकू मारकर घायल कर दिया था। 26 मई 2021 को हुए इस विवाद का कारण पैसों का लेनदेन बताया गया था। घटना के बाद पीड़ित को इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। वही उसकी इलाज के दौरान 3 जून को शोएब मौत हो गई थी। जिसके बाद पुलिस ने पहले जहां हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया था। वही पीड़ित की मौत के बाद हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू की थी। वहीं पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। तथा उसे न्यायालय में पेश किया गया है। आरोपी घटना के बाद से ही फरार था। वहीं पुलिस ने मशक्कत के बाद आरोपी को शीघ्रता से गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें…जबलपुर CMHO ने सभी विभाग प्रमुखों को लिखा पत्र, कहा वैक्सीन के दोनों डोज नहीं तो वेतन नहीं

दमोह कोतवाली टीआई सत्येंद्र सिंह राजपूत देते हुए बताया कि 26 मई को पैसों के लेनदेन के कारण शोएब पठान और आफताब कुरेशी के बीच में झगड़ा हुआ था। जिसमें आफताब कुरेशी द्वारा शोएब पठान पर तीन बार चाकू से हमला किया गया। जिससे शोएब बुरी तरह घायल हो गया। और उसे जिला चिकित्सालय दमोह में भर्ती कराया गया। जहां पर उसका प्राथमिक उपचार हुआ। लेकिन स्थिति में सुधार नहीं आने के कारण उसे जबलपुर रेफर किया गया। और जबलपुर में 3 जून को उसने दम तोड़ दिया। जिसके बाद आफताब के खिलाफ धाराओं में इजाफा कर प्रकरण दर्ज किया गया। कल सीता कॉलोनी में आफताब के होने की खबर मिली और उसके बाद पुलिस बल के साथ उसे घेराबंदी कर पकड़ा गया। वही गिरफ्तार करने के बाद उससे पूछताछ की गई जिसमें उसने अपना जुर्म कबूल किया।