बीस दिन पहले हुई शादी बनी पटवारी की मौत का कारण

शादी हुए को महज 20 दिन ही हुए थे, पत्नी के प्रेमी ने पटवारी पति को उतारा मौत के घाट...

शकील खान, देवास। देवास के बैंक नोट प्रेस थाना अंतर्गत भोपाल रोड़ पर रविवार को एक पुलिया के पास पुलिस को 33 वर्षीय नीरज परते की लाश मिली थी, जिसकी अज्ञात आरोपी ने गला रेतकर हत्या की थी। नीरज पेशे से पटवारी था और महज बीस दिन पूर्व ही 21 नवंबर को उसकी शादी हुई थी। पुलिस ने जांच पड़ताल कर 24 घण्टे में ही इस हत्या की गुत्थी सुलझा ली। नीरज को मौत के घाट उतारने वाला कोई और नहीं उसकी पत्नी का प्रेमी ही निकला।

यह भी पढ़े…जबलपुर RTO के खिलाफ फिर भाजपा के पूर्व मंत्री ने खोला मोर्चा

जी हां, नीरज की शादी ही उसकी मौत की वजह बन गई। इस मामले का खुलासा पुलिस द्वारा एक प्रेसवार्ता आयोजित कर किया गया। एसपी डॉ. शिव दयाल सिंह ने बताया कि पुलिस को रविवार को सूचना मिली थी कि बीएनपी थाना अंतर्गत ग्राम जेतपुरा के पास एक पुलिया के नीचे किसी अज्ञात युवक की लाश पड़ी हुई हैं। युवक की शिनाख्त कर रहीं पुलिस को जानकारी मिली कि उसका नाम नीरज पिता कमल सिंह पर्ते हैं और वह सोनकच्छ में पटवारी के पद पर पदस्थ था। मृतक नीरज की शादी बीस दिन पूर्व 21 नवंबर को हुई थी।

यह भी पढ़े.. Omicron News : UK में ओमिक्रोन से पहली मौत, पीएम ने की पुष्टि

मामले की तफतीश में पुलिस ने पाया कि उसकी पत्नी के परिचित ग्राम गेलपूर जिला रायसेन निवासी अनिल कुमार सरयाम ने उसकी हत्या की हैं। वारदात को अंजाम देने के बाद वह मौके से फरार हो गया था। आरोपी को पुलिस ने भोपाल से गिरफ्तार कर उससे पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया। अधिक जानकारी देते हुए एसपी डॉ. शिव दयाल सिंह ने कहा कि मृतक की पत्नी और आरोपी अनिल के बीच प्रेम संबंध थे, दोनों एक दूसरे से मोबाइल पर बात किया करते थे। आरोपी अनिल ने नीरज को रास्ते से हटाने के लिए सोचा समझा षडयंत्र रचा और उसकी पत्नी का रिश्तेदार बताकर पहले उससे दोस्ती की व 10 दिसंबर की रात एक ढाबे पर ले जाकर उसे खाने के साथ शराब पिलाई। जिसके बाद गला रेतकर उसकी हत्या कर दी। उन्होंने बताया कि आरोपी व मृतक की पत्नी के मोबाइल डिटेल्स चेक किए जा रहे हैं। साक्ष्य मिलने पर मृतक की पत्नी को भी आरोपी बनाया जाएगा।