Indore News : इंदौर में लुटेरो का आतंक महिलाओं को बनाया जा रहा है टारगेट, दो महिला हुई जख्मी।

फिलहाल, लूट की वारदातो के सीसीटीवी फुटेज जुटाकर पुलिस बदमाशों की तलाश में जुट गई है। हालांकि, इंदौर में जिस तरह से अपराधी बेखौफ हो गए है उससे ये लग रहा है कि अपराधियों को इस बात की परवाह नही है कि शहर में पुलिस पहले से भी ज्यादा भारी हो गई है।

इंदौर,आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश के इंदौर और भोपाल में अभी हाल ही में सरकार द्वारा पुलिस कमिश्नरी प्रणाली लागू किया गया था , जिसके बाद माना जा रहा था कि अब इन दोनों जिलों में अपराधों का ग्राफ कमजोर होगा। लेकिन इंदौर जिले में घट रही आपराधिक घटनाओं के बाद यह कहना थोड़ी जल्दी होगी। इंदौर जिले में इस वक़्त अपराधियों के हौंसले इतने बुलंद है कि उन्हें न तो शासन का दर बचा है न ही प्रशासन का। वारदातों को लगतार अंजाम देकर लगता है मानो वो पुलिस को कह रहे हैं कि हम इस ग्राफ को किसी भी सूरत में कमजोर नही होने देंगे।

यह भी पढ़ें…अच्छी खबर : एक बार फिर बड़ा भारत का मान प्रधानमंत्री को मिला भूटान का सर्वोच्च नागरिक सम्मान 

दरअसल, आर्थिक राजधानी इंदौर में बेखौफ बदमाशो ने सिलसिलेवार एक के बाद एक तीन लूट को सरेराह अंजाम देने का प्रयास किया।। वही दो पहिया वाहनों पर सवार लुटेरो द्वारा पर्स लूट की वारदात को अंजाम देते वक्त दो महिलाएं गंभीर रूप से घायल हो गई है। घायल महिलाओं में एक महिला एडवोकेट है तो दूसरी स्कूल टीचर है। इसके अलावा लुटेरो ने दो पहिया वाहन पर जा रही एक अन्य महिला के पर्स को भी लूटा है।

यह भी पढ़ें…छात्रों ने किया परीक्षा का बहिष्कार कहा “जब पढ़ाई ऑनलाइन तो परीक्षा क्यों ऑफलाइन”?

बता दे कि लसूड़िया थाना क्षेत्र के निपानिया क्षेत्र में रिटायर्ड जज की 40 वर्षीय एडवोकेट बहू आराधना सिंह घर से बच्चों को लेने के लिए एक्टिवा पर सवार होकर जा रही थी इसी दौरान पीछे से आये बाइक सवारों ने एडवोकेट आराधना सिंह के पर्स को छीनने का प्रयास किया। जिसके चलते उनकी गाड़ी असंतुलित हो गई और वओ सड़क पर जा गिरी। इसके बाद एडवोकेट आराधना सिंह को घायल अवस्था मे इलाज के लिए निजी अस्पताल ले जाया गया। इंदौर डीसीपी झोंन – 2 आशुतोष बागरी ने बताया कि बॉम्बे हॉस्पिटल से सूचना लसूड़िया थाने में आई थी कि एक महिला घायल अवस्था मे इलाज के लिए आई है और उसके द्वारा बताया जा रहा है कि उसके छीना छपटी की घटना हुई है। जिसके बाद पुलिस ने शिकायत दर्ज की और मौके पर पुलिस टीम पहुंच गई। उन्होंने बताया कि घटनास्थल के आस पास के सीसीटीवी फुटेज तलाशे जा रहे है वही जो तथ्य मिलेंगे उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि 40 वर्षीय घायल महिला पेशे से वकील बताई जा रही है। वही घटना स्थल से डेढ़ किलोमीटर की परिधि के सीसीटीवी फुटेज चेक किये जा रहे है ताकि जल्द लुटेरो का पता लगाया जा सके।

यह भी पढ़ें…Jabalpur news: जिले में नहीं रुक रहा हत्याओं का सिलसिला, देर रात हुई एक नई वारदात

वहीं लूट की दूसरी वारदात एमआइजी थाना क्षेत्र के अनूप नगर एक्सटेंशन की है। जहां स्कूल शिक्षिका किरण देसाई अपने घर की ओर आ रही थी तब मोपेड सवार बदमाश अचानक पीछे से आए और महिला का पर्स छीनने का प्रयास किया। इस दौरान शिक्षिका ने बदमाशों से संघर्ष किया और उनके पैर में चोंट आ गई। जिसके बाद उन्हें इलाज के अस्पताल ले जाया गया। फरियादी किरण देसाई की माने तो बदमाश बेहद तेजी से आये थे तो उन्हें लगा उनके साथ कोई परिजन मजाक कर रहे होंगे लेकिन तब ही उन्हें लगा कि उनके पर्स को छीना जा रहा है ऐसे में उन्होंने पर्स नही छोड़ा और वो सड़क पर रगड़ती चली गई। एसीपी निहित उपाध्याय ने बताया कि घटना की जांच कर जल्द ही बदमाशों को पकड़ने के प्रयास में पुलिस जुट गई है। वही इस पूरी घटना के सीसीटीवी फुटेज भी सामने आए है जो सोशल मीडिया पर वायरल है।

Indore News : इंदौर में लुटेरो का आतंक महिलाओं को बनाया जा रहा है टारगेट, दो महिला हुई जख्मी।

 

इधर, लूट की एक अन्य वारदात छोटी ग्वालटोली थाना क्षेत्र के एसजीएसआईटीएस कॉलेज के सामने की है। जहां अपनी भाभी के साथ घर जा रही है एक्टिवा सवार मनीषा गुप्ता को भी बाइक सवार बदमाशों ने निशाना बनाया महिला के गले मे टंगा पर्स छीनकर बदमाश भाग खड़े हुए। महिला के पर्स में 6 हजार रुपये और जरूरी दस्तावेज थे।

फिलहाल, लूट की वारदातो के सीसीटीवी फुटेज जुटाकर पुलिस बदमाशों की तलाश में जुट गई है। हालांकि, इंदौर में जिस तरह से अपराधी बेखौफ हो गए है उससे ये लग रहा है कि अपराधियों को इस बात की परवाह नही है कि शहर में पुलिस पहले से भी ज्यादा भारी हो गई है।