Good News: शिवराज सरकार ने ग्वालियर को दी बड़ी सौगात, किसानों को मिलेगा फायदा

यहाँ उत्पादित बीज देशभर के किसानों को उपलब्ध कराए जा सकेंगे।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना।  मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार (Shivraj Government ) ने ग्वालियर (Gwalior)  को एक बड़ी सौगात दी है। प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह की पहल पर ग्वालियर में राष्ट्रीय स्तर की आलू टिश्यू कल्चर लैब (Potato Tissue Culture Lab) स्थापित की जा रही है।  इसके लिए 12.76 करोड़ रुपये की स्वीकृति मिल गई अलावा लैब की बाउण्ड्री वॉल के लिए भी मिली लगभग 194 लाख रुपये की स्वीकृति मिल गई है।

ग्वालियर जिले में अब राष्ट्रीय स्तर की आलू टिश्यू कल्चर लैब का निर्माण होने जा रहा है। जिसका लाभ आलू की खेती करने वाले किसानों को मिल सकेगा  एकीकृत बागवानी मिशन अंतर्गत शहर से लगे हाइवे बाइपास पर बेहटा पंजाबीपुरा की लगभग साढ़े 14 हैक्टेयर सरकारी जमीन पर इस लैब की स्थापना की जाएगी। प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह की पहल पर उद्यानिकी एवं प्रक्षेत्र वानिकी संचालनालय द्वारा इस लैब के निर्माण के लिए प्रथम चरण में 12 करोड़ 76 लाख रुपये की राशि की सैद्धांतिक मंजूरी जारी कर दी है।

ये भी पढ़ें – शिवराज सरकार ने पूरा किया वादा, JC Mill  के श्रमिकों को दिया बड़ा तोहफा

ग्वालियर में आलू टिश्यू कल्चर लैब स्थापित होने पर ग्वालियर एवं चंबल क्षेत्र सहित अन्य समीपवर्ती क्षेत्रों के किसानों के लिए विकास के नए दरवाजे खुलेंगे। इस लैब में अत्याधुनिक तकनीक से टिश्यू कल्चर पद्धति से आलू के बीज तैयार होंगे। साथ ही किसानों को उन्नत खेती के लिए व्यवहारिक एवं तकनीकी मदद मिलेगी। यहाँ उत्पादित बीज देशभर के किसानों को उपलब्ध कराए जा सकेंगे।

ये भी पढ़ें – सोनू सूद के घर IT विभाग का छापा, आम आदमी पार्टी ने साधा केंद्र सरकार पर निशाना

उधर टिश्यू कल्चर लैब की बाउण्ड्रीवॉल निर्माण के लिए चिन्हित की गई जमीन की बाउण्ड्रीवॉल निर्माण के लिए भी राज्य उद्यानिकी मिशन के तहत लगभग एक करोड़ 94 लाख रुपये की राशि स्वीकृत हो गई है। बाउण्ड्रीवॉल का निर्माण लोक निर्माण विभाग द्वारा किया जायेगा ।

ये भी पढ़ें – MP Board: 9वीं-12वीं छात्रों के लिए बड़ी खबर, टाइम टेबल जारी, देखें यहां