सत्ता में आने के लिए कांग्रेस को लक्ष्मण सिंह ने दी ये नसीहत

लक्ष्मण सिंह

गुना, संदीप दीक्षित। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और चांचौड़ा से विधायक लक्ष्मण सिंह अपनी बेबाक छवि की वजह से आए दिन चर्चाओं में रहते हैं। एक बार फिर कांग्रेस नेता अपने एक ट्वीट की वजह से चर्चाओं में हैं। इस बार ट्वीट करते हुए लक्ष्मण सिंह ने अपने ही लोगों को स्पष्टीकरण दिया है कि अतिक्रमणकारियों और भू-माफियाओं के चलते उनकी मुहिम निष्पक्ष है। कुछ लोगों ने उन्हें गलत समझा है। विशेष चर्चा में लक्ष्मण सिंह ने अपनी विस्तार से कहते हुए बताया है कि प्रदेश में भू-माफिया और वन माफिया के खिलाफ कार्रवाई होना चाहिए।

दमोह- महंगाई के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन, कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ी

लक्ष्मण सिंह का कहना है कि कुछ लोग उनके बारे में नकारात्मक होने संबंधी राय रखते हैं। ऐसे लोगों को जवाब देते हुए कांग्रेस नेता ने कहाकि अगर वह नकारात्मक होते तो 8 बार चुनाव नहीं जीतते। लक्ष्मण सिंह ने फिर कहाकि वह कांग्रेस पार्टी की वर्तमान हालत से चिंतित हैं। साथ ही उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेतृत्व को सलाह भी दी कि जिस तरह फसल बोने के बाद हम खरपतवार को नष्ट करते हैं, उसी तरह पार्टी में ऐसे कार्यकर्ताओं या अवसरवादी लोगों को नष्ट करने की जरूरत है तो केवल निजी हित के लिए पार्टी में शामिल होते हैं।

शराब के अवैध कारोबार को लेकर भी लक्ष्मण सिंह ने अपना नजरिया स्पष्ट किया है। चांचौड़ा विधायक के मुताबिक अवैध शराब का कारोबार गलत है। साथ ही वैध रूप से शराब के जरिए जहर बेचने वालों पर भी कार्रवाई होना चाहिए। लक्ष्मण सिंह के मुताबिक वह प्रदेश में माफिया के खिलाफ लड़ते आए हैं। एक सूची उन्होंने भोपाल में सौंपी है। यदि गुना जिले के कलेक्टर उन्हें लिखित में आश्वासन दें कि वह माफिया के खिलाफ कार्रवाई करेंगे तो वह स्थानीय स्तर पर नाम सहित यह सूची गुना कलेक्टर को भी सौपेंगे। गुना जिले के आरोन वन परिक्षेत्र में वन विभाग द्वारा की गई कार्रवाई को लक्ष्मण सिंह ने सही ठहराया है और कार्रवाई का विरोध होने संबंधी खबरों पर कहाकि इससे वन विभाग का हौंसला कमजोर नहीं पड़ता है। किसी भी सरकार को इस तरह की कार्रवाई करना चाहिए।