अब ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ा कोरोना का खतरा, एक ही परिवार के 27 लोग कोरोना पॉजिटिव

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर जिले के शहरी क्षेत्रों में भले ही संक्रमण की रफ्तार थोड़ी धीमी पड़ रही हो लेकिन खतरा ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ गया है। जिले के मुरार विकासखंड के एक गाँव से चिंता वाली खबर आई है। यहाँ एक ही परिवार के 27 लोग संक्रमित मिले हैं। इन्हें घर पर आइसोलेट कर गाँव को सील कर दिया गया है।

जरूरतमंदों के लिए आगे आये छतरपुर कलेक्टर, अपने वेतन से 2 हजार खाने के पैकेट बाटें

ग्वालियर जिले के मुरार विकास खंड की ग्राम पंचायत स्यावरी के गाँव भेला खुर्द में गुरुवार को 27 लोगों के कोरोना पॉजिटिव निकलने से हड़कंप मच गया। खास बात ये है कि ये सभी लोग एक ही परिवार के सदस्य हैं। जानकारी के अनुसार भेला खुर्द के सोनेराम को पॉजिटिव होने पर दो दिन पहले बिरला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पॉजिटिव आने के बाद प्रशासन की टीम ने गाँव पहुंचकर ग्रामीणों को समझाइश दी और उनका रैपिड एंटीजन टेस्ट किया। रैपिड एंटीजन में परिवार के 27 लोग पॉजिटिव निकले। सूचना मिलते ही एसडीएम पुष्पा पुषाम गाँव पहुंची। उन्होंनेसभी मरीजों को बुलाकर हाल चाल जाना और गाँव को सील कर बेरिकेटिंग करवाई। उनके सतज राजस्व निरीक्षक देवेंद्र यादव, पटवारी ज्ञान सिंह राजपूत, पटवारी परामताप शुक्ला एवं सचिव एवं सहायक सचिव मौजूद थे।

एसडीएम ने सभी ग्रामीणों को उनके घर में आइसोलेट कर दिया, उन सभी के घर थोड़ी थोड़ी दूर पर बने हैं। 3 मरीजों का घर गाँव में होने से उनको भी खेतों में बने हुए अलग घर में आइसोलेट कर दिया। एसडीएम ने कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है। प्रशासन आपके साथ है दवा की व्यवस्था की जायेगी। कोई भी जरूरत हो हमें बताइये।