जरूरतमंदों के लिए आगे आये छतरपुर कलेक्टर, अपने वेतन से 2 हजार खाने के पैकेट बाटें

छतरपुर कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने जरूरतमंदों के लिए अपने वेतन से 2 हजार खाने के पैकेट बटवाए।

छतरपुर, संजय अवस्थी। कोरोना (Corona) काल में गरीब और मजदूर वर्ग के ऊपर आर्थिक तंगी आ गई है जिसके चलते कई परिवार दाने-दाने को मोहताज हो गए है। छतरपुर (Chhatarpur) में भी गरीबों और ज़रूरतमंदों का यही हाल है वही शहर में लोगों की मदद करने के लिए छतरपुर कलेक्टर (Chhatarpur Collector) शीलेन्द्र सिंह आगे आये है उन्होंने अपनी वेतन से 2 हजार खाने के पैकेट जरूरतमंद लोगों को बंटवाये।

यह भी पढ़ें…छतरपुर : गांजे की तस्करी करते दो आरोपी गिरफ्तार, दो किलो से अधिक गांजा जब्त

छतरपुर में 7 जरूरतमंदों के लिए आगे आए कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने अपनी वेतन से 2 हजार खाने के पैकेट जरूरतमंदों को वितरित किये। बस स्टैंड के पास स्थित सदर बाजार में पहुंचकर कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने अपने हाथों से जरूरतमंदों को भोजन के पैकेट वितरित किये, कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने कहा कि दानदाता जरूरतमंदों की मदद करें, इस महामारी में कोई भी परिवार भूखा ना रहे, यह हम सब की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि जो लोग सक्षम है वह गरीबों की मदद जरूर करें, जिन लोगों द्वारा दीनदयाल रसोई में इस आपदा में सहयोग किया है उन सभी को कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने धन्यवाद देते हुए उनकी सराहना की,उन्होंने कहा कि कोरोना की चेन तोड़ने के लिए वैक्सीन अवश्य लगवाएं, वैक्सीन के बारे में गलत भ्रांतियां फैलाई जा रही, जो लोग ऐसा कर रहे है वह लोग शहर का भला नहीं चाहते, उन्होंने कहा कि उन्होंने स्वयं वैक्सीन लगवाई है, आप भी वैक्सीन जरूर लगवाए, वैक्सीन लगवा कर ही हम कोरोना की चेन को तोड़ सकते है। गौरतलब है कि इस कोरोना आपदा के दौरान सीएमओ ओमपाल सिंह भदोरिया के मार्गदर्शन में संगम सेवालय के संचालक विपिन अवस्थी द्वारा दीनदयाल रसोई से खाना बनकर जरूरतमंदो तक पहुचाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें…दतिया में अधिकारियों एवं काजी की जनता से अपील, कहा गाइडलाइन का पालन कर ईद घर में मनायें