Gwalior News : फिर धरे गये दो दर्जन नकलची

Amit Sengar
Published on -

Gwalior Jiwaji University News : ग्वालियर के जीवाजी विश्वविद्यालय की वार्षिक परीक्षाएं शुरू हो गईं। परीक्षा के पहले ही दिन नकल रुकने का नाम नहीं ले रही है बुधवार को परिक्षाओं में फ्लाइंग स्कॉट ने ग्वालियर, मुरैना और भिंड जिले में 2 दर्जन से अधिक नकलची छात्रों को पकड़ा है फिर भी छात्र नकल सामग्री लेकर आते हैं मुख्य द्वार पर तलाशी ली जाती है फिर भी नकल करते छात्र छात्राएं पकड़े गए हैं।

टीम ने पकड़े नकलची

बता दें कि बुधवार से जीवाजी विश्वविद्यालय से संबंधित कॉलेजों में परीक्षाएं शुरू हो गई हैं जिसमें जीवाजी विश्वविद्यालय के परिसर और संबंध कॉलेजों में बीए, बीएससी, बीकॉम, बीबीए, बीसीए सहित अन्य विषयों की परीक्षाएं शुरू हो गई हैं हमेशा से इन परीक्षाओं में नकल को लेकर जीवाजी विश्वविद्यालय काफी बदनाम होता जा रहा है इसी को लेकर जीवाजी विश्वविद्यालय के कुलपति स्वयं फ्लाइंग स्कॉट टीम के साथ ग्वालियर चंबल संभाग के कॉलेजों में निरीक्षण किया जहाँ विश्वविद्यालय के परीक्षा भवन में परीक्षा चल रही हैं और आज पहले दिन परिसर में नकल करते हुए दो छात्रों को पकड़ा है जिसमें एक छात्रा और एक छात्र शामिल है खास बात यह है कि छात्र अपने हाथ पर नकल लिखकर लाया था पकड़े जाने के बाद केस बनाने के लिए नकल के साथ हाथ का फोटो खींचा गया है और उसके बाद पंचनामा बनाया गया है। साथ ही जीवाजी विश्वविद्यालय के कुलपति अविनाश तिवारी फ्लाइंग स्कॉट टीम के साथ ग्वालियर मुरैना भिंड जिले की कॉलेजों का निरीक्षण करने के लिए निकल गए और इस दौरान उन्होंने दर्जनों भर कॉलेजों में नकल करती हुई छात्रों को पकड़ा है।

Gwalior News : फिर धरे गये दो दर्जन नकलची

दो पालियों में हो रही परीक्षाएं

गौरतलब है कि ग्वालियर से गए फ्लाइंग स्कॉट ने संभाग भर के परीक्षा केंद्रों पर औचक निरीक्षण किया तो इसमें मुरैना की पीएसयू कॉलेज में 8 छात्र नकल करते हुए पकड़े गये वहीं दतिया जिले की इंदरगढ़ परीक्षा केंद्र पर एक दर्जन नकलची छात्र को फ्लाइंग स्कॉट की टीम ने पकड़ा इसके अलावा भिंड में पीस कॉलेज में 2 छात्र और देवपुरिया कॉलेज में एक छात्र को नकल करते हुए पकड़ा है। विश्व विद्यालय के अनुसार आज से शुरू हुई परीक्षाएं दो पालियो में हो रही है। पहली पाली सुबह 10ः00 बजे से 2 बजे तक और दूसरी पाली 3ः00 से 6ः00 तक आयोजित की जा रही है।


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News