ज्योतिरादित्य सिंधिया के आशीर्वाद से लक्ष्मी बनी अध्यक्ष

लक्ष्मी पूरन सिंह को 24 वोट मिले जबकि उनके सामने खड़ी  हुई सुनीता महाराज सिंह राजौरिया को मात्र 6 वोट मिले।

डबरा, डेस्क रिपोर्ट। आखिरकार इमरती देवी ने डबरा में अपनी ताकत और बढ़ते जनाधार का दिखा दिया, सिंधिया (Scindia) का आशीर्वाद उनके साथ लौटी लक्ष्मी पूरन सिंह डबरा नगर पालिका अध्यक्ष पद पर चुन ली गई। लक्ष्मी पूरन सिंह को 24 वोट मिले जबकि उनके सामने खड़ी हुई सुनीता महाराज सिंह राजौरिया को मात्र 6 वोट मिले।

ज्योतिरादित्य सिंधिया के आशीर्वाद से लक्ष्मी बनी अध्यक्ष

ग्वालियर जिला पंचायत अध्यक्ष में अपने समर्थक प्रत्याशी लक्ष्मी पूरन सिंह (Lakshmi Puran Singh Dabra Nagar Palika President) को जीत दिलाने में नाकामयाब हुई पूर्व मंत्री एवं लघु उद्योग निगम की अध्यक्ष इमरती देवी (Imarti Devi) ने अपने घर यानि डबरा में नगर पालिका में झंडा गाड़ दिया। यहाँ उनकी समर्थक लक्ष्मी पूरन सिंह एक बड़े अंतर से अध्यक्ष पद पर काबिज हो गई।

ये भी पढ़ें – मंत्रालय कर्मचारी की Suicide पर उच्च स्तरीय जांच की मांग, सीएम शिवराज को लिखा पत्र

राजनीतिक पंडितों की मानें तो डबरा नगर पालिका अध्यक्ष पद की दौड़ में पूर्व मंत्री इमरती देवी और गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) आमने सामने थे। सब तरफ चर्चा चल रही थी कि दोनों में से कौन ताकतवर साबित होता है। इसी बीच इमरती देवी पार्षदों को लेकर दिल्ली गईं,  उन्होंने वहां केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) का आशीर्वाद लिया। फिर उन फोटो को वायरल भी किया।

ये भी पढ़ें – Har Ghar Tiranga : सीएम शिवराज ने खरीदा तिरंगा, आह्वान ‘मेहनत की कमाई से खरीदें राष्ट्रध्वज’

समर्थक पार्षदों को सिंधिया का आशीर्वाद  दिलाने के बाद इमरती ने ऐसा समीकरण बैठाया कि आज जब अध्यक्ष पद के लिए वोटिंग हुई तो कांग्रेस समर्थित चार पार्षदों ने भी क्रॉस वोटिंग कर भाजपा समर्थित उम्मीदवार को वोट दिया।