इटारसी में जर्जर हो चुके मकानों को खाली कराएगा प्रशासन, जल्द तोड़े जाएंगे मकान- एसडीएम

जिसके बाद जो मकान पूरी तरह से जर्जर हो चुके हैं उनके मकान मालिकों को नोटिस जारी कर मकान तोड़ने की बात कही गई है।

इटारसी, राहुल अग्रवाल। इटारसी (itarsi) शहर में जर्जर हो चुके मकान को प्रशासन द्वारा खाली कराया जाएगा। जनहानि की आशंका को देखते हुए एसडीएम (SDM) मदन सिंह रघुवंशी ने आज शहर में जर्जर हो चुके पुराने मकानों का निरीक्षण किया। जिसके बाद जो मकान पूरी तरह से जर्जर हो चुके हैं उनके मकान मालिकों को नोटिस जारी कर मकान तोड़ने की बात कही गई है।

यह भी पढ़ें…अवैध हथियारों के साथ पकड़ाया गया बीएसएफ का निलंबित सिपाही, एनडीपीएस एक्ट में हुआ था गिरफ्तार

एसडीएम मदन सिंह रघुवंशी ने बताया इटारसी शहर में जो मकान 100 वर्ष से अधिक के हैं। वह खतरा उत्पन्न कर सकते हैं। क्योंकि तेज बारिश और आंधी तूफान में ऐसे मकानों का गिरना आम बात होती है। जिससे जनहानि भी हो सकती है। शहर में 4 महीने में बाजार क्षेत्र के दो मकानों के छज्जे गिर चुके हैं। राहत की बात यह थी कि उसमें कोई जनहानि नहीं हुई। लेकिन ऐसे मकान कभी भी दुर्घटना का कारण बन सकते हैं। उसको देखते हुए अब बरसात से पहले इन मकानों को तोड़ा जाएगा। जिसके चलते नगरपालिका के इंजीनियर से सर्वे कराया जा रहा है। रिपोर्ट आने पर धारा 133 का केस बनाकर इनको तोड़ने के नोटिस जारी किए जाएंगे। जिससे आने वाली दुर्घटना से बचा जा सके। ज्ञात हो कि शहर में ऐसे लगभग 30 से अधिक भवन है, जो 100 वर्ष से अधिक समय पहले के है। जो अब पूरी तरह जीर्णशीर्ण हो चुके है जिनके गिरने से कोई भी दुर्घटना हो सकती है।