इंदौर: पूजा हत्याकांड में नया खुलासा, देवर ने ही उतारा था भाभी को मौत के घाट

राहुल ने पुलिस पूछताछ में बताया कि हत्या की योजना उसके भाई जितेंद्र के सामने बनी थी। जिसके बाद पुलिस ने पति को हत्या के षड्यंत्र में शामिल होने को लेकर आरोपी बनाया और उसे गिरफ्तार कर लिया।

इंदौर

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (Indore) में गर्भवती पूजा हत्याकांड (Indore Murdered Case) मामले में रोज नए-नए खुलासे हो रहे है। दरअसल, इंदौर के मल्हारगंज थाना क्षेत्र में स्थित कमला नेहरू कालोनी के रामदुलारी अपार्टमेंट में शनिवार को पूजा उर्फ जान्हवी की जान उसके ही पति के भाइयों ने ले ली थी। देवर ने गला घोंटकर हत्या की वारदात को अंजाम दिया था लेकिन इस बीच पूजा का पुलिसकर्मी पति खुद को बेगुनाह बताता रहा।

यह भी पढ़े.. मप्र के 52 जिलों में 93 से ज्यादा मेडिकल किट वितरित, सीएम बोले-ऐसे हो सकता संक्रमण नियंत्रण

इंदौर पुलिस (Indore Police) महकमे में कोरोना संकट के दौर में सनसनी मचा देने वाली इस खबर के मामले में जांच में जुटी मल्हारगंज पुलिस जानती थी कि हत्या की वारदात किसी हाई प्रोफ़ाइल मामले से कम नही है। लिहाजा, पुलिस ने पहले दोनो हत्यारे देवरो को अपनी गिरफ्त में लिया और जब उनसे जानकारी जुटाई तो पता चला हत्या का षड्यंत्र पति के सामने ही रचा गया था और उसको इसकी जानकारी थी।

दरअसल, 34 वीं बटालियन में कंपनी कमांडर के पद पर पदस्थ जितेंद्र अस्के ने दो पत्नियां रख रखी थी उसकी पहली शादी अन्नू निवासी धार से हुई थी जिसके बच्चे भी है। वही इंदौर में दूसरी पत्नि के रूप में मृतका पूजा उर्फ जाह्नवी थी। पूजा को जब इस बात की जानकारी लगी कि उसके पति जितेंद्र की पहले से ही एक पत्नि है तब उसने धार में रह रही पहली पत्नि को सीधे फोन लगाया और फोन पर दोनो का जमकर विवाद हुआ। इसके बाद पहली पत्नि अन्नू ने बच्चो सहित आत्महत्या की धमकी पति जितेंद्र को दी। जिसके बाद बदहवास होकर जितेंद धार पहुंचा। जहां पहले से ही जितेंद्र का भाई राहुल मौजूद था जो कि छिंदवाड़ा में आरक्षक के पद पर पदस्थ है इसके अलावा उनकी मौसी का लड़का नवीन भी मौजूद था।

यह भी पढ़े.. शादी में 10 से ज्यादा को अनुमति नहीं, सीएम शिवराज सिंह बोले-कर्फ्यू का कड़ाई से पालन हो

इसी दौरान हत्याकांड की साजिश रची गई। इस दौरान जितेंद भी मौजूद था। इसके बाद दोनों देवर राहुल और नवीन इंदौर पहुंचे और उन्होंने शनिवार को 8 माह की गर्वभती पूजा उर्फ जाह्नवी की गला दबाकर हत्या कर डाली। इसके पूजा के परिजनों ने तमाम आरोप पूजा के पति जितेंद पर लगाएं थे। मल्हारगंज पुलिस की इस मामले में दूसरी पत्नि की हत्या करने वाले हत्यारे देवर राहुल और नवीन को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि इस दौरान पति जितेंद पुलिस को बरगलाता रहा लेकिन राहुल ने पुलिस पूछताछ में बताया कि हत्या की योजना उसके भाई जितेंद्र के सामने बनी थी। जिसके बाद पुलिस ने पति को हत्या के षड्यंत्र में शामिल होने को लेकर आरोपी बनाया और उसे गिरफ्तार कर लिया।

वही पुलिस अब पूजा को धोखे में रखकर शादी करने के मामले सहित अन्य धाराओं में पति जितेंद्र अस्के के खिलाफ कार्रवाई करेगी। फिलहाल, पूजा हत्याकांड मामले का पर्दाफाश हो चुका है और अब पूजा के पति सहित कुल 3 आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है।रिश्तों की इस अनसुलझी गुत्थी के सामने आने के बाद ये स्याहा सच है कि रिश्तों को झूठ की बुनियाद पर खड़ा किया गया हो तो अंजाम बुरा ही होता है।

इंदौर इंदौर इंदौर इंदौर