गरीबों के मसीहा बने जीतू पटवारी, मुख्यमंत्री राहत कोष के नाम किया12 महीने का मूल वेतन

इंदौर (Indore) में कोरोना पीड़ित गरीब परिवारों की मदद के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) को पत्र लिखकर अपना 12 महीने का मूल वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने की बात कही है।

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व मंत्री और वर्तमान में विधायक (MLA) जीतू पटवारी ने कोरोना काल (corona phase) की इस विषम परिस्थिति में गरीबों (poor) की मदद हेतु बड़ी घोषणा की है। उन्होंने इंदौर (Indore) में कोरोना पीड़ित गरीब परिवारों की मदद के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) को पत्र लिखकर अपना 12 महीने का मूल वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने की बात कही है।

यह भी पढ़ें… मातम में बदली खुशियां, रात में संपन्न हुआ विवाह, सुबह सड़क हादसे में दूल्हे की मौत

इस पत्र में उन्होंने लिखा है कि इस कोरोना काल के तांडव में कई गरीब परिवार ऐसे हैं जो पैसों की किल्लत के चलते अपने सगे-संबंधियों को खो देते हैं। पैसे न होने के कारण वे कोरोना संबंधी ज़रूरी चीज़ें जैसे रेमडेसिवीर इंजेक्शन, बेड, ऑक्सीजन आदि को नहीं प्राप्त कर पाते और इस वजह से कई ऐसे परिवार हैं जो परेशान हैं। ऐसे में जीतू पटवारी ने बड़ी घोषणा करते हुए अपने 12 माह के वेतन की मूल राशि मुख्यमंत्री राहत कोष में देने को लेकर मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है। इस पत्र में उन्होंने मुख्यमंत्री से प्रार्थना की है कि उनके द्वारा प्रदान की जा रही राशि से इंदौर में कोरोना से जूझ रहे गरीब और निर्धन परिवारों के लिए रेमडेसिवीर उपलब्ध करवाई जाए।

यह भी पढ़ें… मरीजों को राहत की सांस, बोकारो स्टील प्लांट से मध्यप्रदेश पहुंची ऑक्सीजन एक्सप्रेस

इसके साथ ही जीतू पटवारी ने सीएम के नाम इस पत्र के अंत में सकारात्मक बाते भी लिखी हैं। पत्र के अंत में जीतू पटवारी ने लिखा कि उन्हें सिर्फ आशा ही नहीं बल्कि पूर्ण विश्वास है कि हम सब कोरोना से जंग लड़ेंगे और अवश्य जीतेंगे।