इंदौर में डबल मर्डर से मचा हड़कंप, दो पक्षों में हुआ था कब्जे को लेकर विवाद, जांच में जुटी पुलिस

अलसुबह बदमाशों ने जमीन के विवाद में हमला कर दो भाइयों नईम ओर छोटू की हत्या कर दी। वहीं हमले में मृतको की माँ खुर्शीद बी भी घायल हो गई। बताया जा रहा है कि मृतक का परिवार भिक्षावृत्ति करता था। अरोपी मृतक के पड़ोस में ही रहता था।

इंदौर

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (indore) के चंदननगर इलाके में शुक्रवार अलसुबह दो भाइयों की हत्या (murder) से सनसनी फैल गई। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार नईम और छोटू नामक शख्‍स की यहां हत्या कर दी गई। बताया जा रहा है कि हत्‍या जमीन के विवाद (land dispute) में हुई है। पुलिस के अनुसार चंदननगर की गरीब नवाज कालोनी में वारदात हुई। इसमें 70 साल की महिला खुर्शीदा बी गम्भीर रूप से घायल हो गई। घटना सुबह पांच बजे की बताई जा रही है। पुलिस (police) पूरे मामले में जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें… दिग्विजय सिंह ने सीएम शिवराज को लिखा पत्र, की मांग- उठाए जाएं कठोर कदम

दरअसल, इंदौर में अनलॉक होते ही अपराधी एक बार फिर सक्रिय हो गए है और हत्या जैसी घटनाओं को अंजाम दे रहे है। ताजा मामला चंदन नगर थाना क्षेत्र की गरीब नवाज कालोनी का है जहां अलसुबह बदमाशों ने जमीन के विवाद में हमला कर दो भाइयों नईम ओर छोटू की हत्या कर दी। वहीं हमले में मृतको की माँ खुर्शीद बी भी घायल हो गई। बताया जा रहा है कि मृतक का परिवार भिक्षावृत्ति करता था। अरोपी मृतक के पड़ोस में ही रहता था।

एक दिन पहले भी जमीन पर कब्जे को लेकर दोनों परिवारो का विवाद हुआ था। जिनमें दोनो ही पक्षों की रिपोर्ट थाने में दर्ज की गई थी वहीं आरोपियों ने अलसुबह 15 से 20 लोगों के साथ हमला कर दिया जिसमें नईम और छोटू की मौत हो गई। वही उनकी माँ खुर्शीद बी घायल हैं जिनका इलाज अस्पताल में चल रहा है। बताया जा रहा है कि आरोपी आपराधिक प्रवृत्ति के है और कालोनी में आए दिन विवाद करते रहते है। फिलहाल, घटना के बाद से ही आरोपी फरार है जिनकी पुलिस तलाश कर रही है।

यह भी पढ़ें… Google ने इस भाषा को बताया सबसे बदसूरत, सोशल मीडिया पर लोगों का फूटा गुस्सा

मिली जानकारी के मुताबिक दोहरे हत्याकांड की संदिग्ध आरोपी कमर जान उसकी मां जुबेदा करीब 5 साल पहले गरीब नवाज झोपड़ बस्ती में रहने आई थी। मां बेटी और इनके कुछ रिश्तेदारों का पूरी बस्ती में आतंक है, आधा दर्जन से ज्यादा प्लाटों पर इन लोगों ने कब्जे कर लिए हैं। कोई भी इनके रास्ते में आता है तो उसे झूठे प्रकरणों में उलझाने से भी यह मां बेटी पीछे नही होती है। कमर जान और उसकी मां जुबेदा प्लाट पर कब्जे करने में माहिर है अगर कोई भी इनके राह में रोड़ा बनता है तो उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवा देती हैं।

मरने वाले दोनों भाई नईम और छोटू के खिलाफ भी पहले यह महिलाएं छेड़छाड़ और रेप जैसी धाराओं में केस दर्ज करवा चुकी है। नईम और छोटू के साथ ही बस्ती में ही रहने वाले रफीक पिता मंजूर और मुन्ना के खिलाफ भी प्रकरण दर्ज करवाए गए थे। बताया जा रहा है इन मां बेटी की एक रिश्तेदार महिला उस समय फरियादी बनी थी।