Google ने इस भाषा को बताया सबसे बदसूरत, सोशल मीडिया पर लोगों का फूटा गुस्सा

जैसे ही ये स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, कन्नड़ भाषा प्रेमियों ने इस पर इतना बवाल मचाया कि ट्विटर पर #kannada कुछ समय में ही देश भर में ट्रेंड करने लगा।

google

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। गूगल (google) बाबा हमारे हर तरह के सवालों के जवाब देने में सक्षम हैं। सवाल कितना भी अतरंगी क्यों न हो गूगल बाबा के पास जवाब जरूर होता है। लेकिन इस बार अपने एक जवाब की वजह से गूगल को देश-विदेश से आलोचना (criticism) झेलनी पड़ रही है। सवाल था कि भारत की सबसे बदसूरत भाषा (ugliest language) कौन सी है, इस पर गूगल द्वारा दिए गए जवाब ने लोगों में गुस्सा भर दिया है।

यह भी पढ़ें… Audio Viral : कलेक्टर बोले, पानी में डूब रहे डॉक्टर तो आपको क्या मतलब!

सोशल मीडिया (social media) पर तेजी से वायरल हो रही एक फोटो दरअसल स्क्रीनशॉट है। ये स्क्रीनशॉट उस वक्त का है जब किसी ने गूगल से पूछा कि भारत की सबसे बदसूरत भाषा कौन सी है जिसके जवाब में गूगल ने लिखा, ‘कन्नड़! (kannada) जो कि दक्षिण भारत के 40 मिलियन लोगों द्वारा बोली जाने वाली भाषा है।’

google

जैसे ही ये स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, कन्नड़ भाषा प्रेमियों ने इस पर इतना बवाल मचाया कि ट्विटर पर #kannada कुछ समय में ही देश भर में ट्रेंड करने लगा। इसके अलावा #kannadaqueenofalllanguages भी ट्विटर पर काफी ट्रेंड करता नजर आया। बता दें कि कन्नड़ देश की राष्ट्र भाषाओं में से भी एक है।

बवाल मचने पर गूगल बाबा ने अपने इस जवाब को सर्च इंजन से हटा दिया और सफाई के तौर पर कहा कि सर्च रिजल्ट हमेशा ‘परफेक्ट’ नहीं होते हैं। लेकिन गूगल के सफाई देने से पहले ही घंटों तक सोशल मीडिया यूजर्स और कर्नाटक के सभी राजनीतिक पार्टियों के नेताओं ने सोशल मीडिया पर सुंदर पिचाई की कम्पनी गूगल की जमकर आलोचना की।

यह भी पढ़ें… इंदौर: पड़ोसी के कुत्ते ने पत्नी को काटा, पति ने गोली मारकर उतारा मौत के घाट

कर्नाटक के वन , संस्कृति आओए कन्नड़ भाषा के मंत्री अरविंद लिम्बावली ने लिखा, ” कन्नड़ भाषा का अपना खुद का इतिहास है। ये भाषा 2,500 साल से भी ज़्यादा पुरानी है। ये कन्नड़ लोगों की शान है। अगर गूगल ने इस सबसे बदसूरत भाषा कहा है तो ये गूगल का एक प्रयास है कन्नड़ लोगों की शान को चोट पहुंचाने का। गूगल तुरंत कन्नड़ भाषा और कन्नड़ लोगों से माफी मांगे। गूगल के खिलाफ लीगल एक्शन किया जाएगा। ”

इसी प्रकार कई अन्य नेताओं ने गूगल की आलोचना की।