ट्रैफिक पुलिस की दरियादिली, बाइक से रिक्शा बांधकर 11 किलोमीटर दूर घर पहुंचाया

इंदौर, आकाश धोलपुरे। यूं तो समूचे लॉकडाउन में पुलिस ने आम जनता के लिए मदद का जो हाथ बढ़ाया है, उसे भुलाना आसान नहीं है। लेकिन इसी कड़ी को आगे बढ़ाया है एक ट्रैफिक पुलिस जवान ने जिसने रात के वक्त सीधे घर न पहुंचते हुए पहले परेशान रिक्शा चालक को रिक्शा सहित उसके घर पहुंचाया। अब पुलिस के इस प्रयास का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

फ्रंटलाइन वॉरियर खुद हुए कोरोना के शिकार, जिंदगी की जंग में घरवालों ने सरकार से की मदद की मांग

मामला इंदौर के एलआईजी चौराहे का है जहां दो दिन पहले रात को ड्यूटी कर रहे ट्रैफिक पुलिस के जवान ने देखा कि एक ई-रिक्शा चालक काफी देर से परेशान हो रहा है। जब ट्रैफिक जवान उस रिक्शा चालक के पास पहुंचा तो पता चला कि उसकी ई-रिक्शा की बैटरी खराब हो गई है। चालक ने पुलिस जवान को बताया कि रिक्शा घर तक ले जाने के लिए उसने एक अन्य रिक्शा वाले से मदद मांगी थी तो वह 500 रुपए मांग रहा था। ऐसे में ट्रैफिक जवान ने उसे कुछ देर रुकने को कहा और जब जवान का ड्यूटी टाइम खत्म हुआ तो उसने अपनी बाइक निकाली और जुगाड़ कर एक रस्सी लेकर आ गया। इसके बाद पुलिस जवान सुमंत सिंह ने रस्सी का एक छोर उसकी रिक्शा के अगले हिस्से पर बांधा और दूसरा छोर अपनी बाइक पर और फिर शुरू हुआ सफर 11 किलोमीटर दूर का। ट्रैफिक जवान तो नेवल क्षेत्र में रहता है लेकिन रिक्शा चालक द्वारकापुरी क्षेत्र में रहता था लिहाजा बाइक से ही रिक्शा रस्सी के सहारे 11 किलोमीटर तक खींचा गया। हालांकि कई दफा रस्सी टूटी भी लेकिन दोबारा उसे जोड़ दिया गया। इस बीच रास्ते मे लोगों ने ये नजारा देखकर सोचा कि कोई कार्रवाई के तहत पुलिस रिक्शा ले जा रही है, लिहाजा लोगो ने वीडियो बना लिया। लेकिन जब उन्हें पता चला कि ट्रैफिक पुलिस किसी जरूरतमंद की मदद कर रही है तो वीडियो बनाने वाले पुलिस आभार मानकर आगे निकल लिए।

इधर, 11 किलोमीटर का सफर तय कर जब ट्रैफिक पुलिस जवान सुमंत सिंह रिक्शा चालक के घर पहुंचे तो परिवार ने पुलिस को धन्यवाद देकर कहा कि जिंदगी में ये पल कभी न भूलने वाले रहेंगे। वहीं ट्रैफिक पुलिस जवान ने कहा कि पुलिस का काम सेवा और कर्तव्य दोनों को मुस्तैदी से करना है। ऐसे में रिक्शा चालक की मदद कर वो बेहद खुश है। ई-रिक्शा चालक का नाम दीपक चौरसिया है और उसने बताया कि वो पुलिस की इस मदद को ताउम्र याद रखेगा।