भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोविशील्ड और कोवैक्सीन के बाद रूस में तैयार हुई स्पूतनिक वैक्सीन अब इंदौर शहर में आ चुकी है। इंदौर में मंगलवार से इसका डोज़ लगना शुरु हो गया है वहीं अब तक यहां के करीब 200 लोगों को ये टीका लगाया गया है। बता दें कोविन एप पर इसके आनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद यह टीका लगाया जा रहा है। इंदौर के शैल्बी अस्पताल में यह टीका दो दिन पहले ही लगाना शुरू हुआ है।

अस्पताल के अधीक्षक डा. विवेक जोशी ने बताया कि उनके अस्पताल में दो दिन पहले स्पूतनिक की 200 डोज आई है और 200 लोगों को लगाई जा चुकी है। इस टीके की पहली डोज के तीन सप्ताह से तीन महीने बाद दूसरी डोज लगेगी। अस्पताल के सीईओ अभिलाष पिल्लई के मुताबिक बुधवार को स्पूतनिक की 1200 डोज पहुंचने वाली हैं। स्पूतनिक का टीका लगवाने वालों का कहना है कि वो तीन महीने से इसी टीके का इंतजार कर रहे थे।

ये भी देखें-कोरोना के एक नए वैरिएंट का खुलासा, डेल्टा से अधिक खतरनाक और संक्रामक है Lambda Varient!

स्पूतनिक-V के क्या हैं रेट?

सरकार से तय आंकड़ों के अनुसार एक डोज की कीमत 1145 रुपए रखी है। निजी अस्पतालों में 1145 रुपये में ये वैक्सीन लगाई जा रही है। इसके लिये पहले ही कोविन ऐप या आरोग्य सेतु ऐप पर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा।

PM Aawas Yojna में मनमानी गड़बड़ी, ग्रामीणों ने कलेक्टर तक की शिकायत

आज लगेगी वैक्सीन की सिर्फ दूसरी डोज

बुधवार को शहर में 200 से अधिक केंद्रों पर 50 हजार लोगों को टीका लगाया जाएगा। गौरतलब है कि अभी तक टीकाकरण केंद्रों पर लोगों को कोविशील्ड की दूसरी डोज ही लग पा रही थी। अब बुधवार को भी कोविशील्ड की दूसरी डोज और कोवैक्सीन की भी दूसरी डोज ही लग सकेगी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा बुधवार को 29 हजार 500 कोविशील्ड की डोज और 20 हजार कोवैक्सीन की डोज लगाने का लक्ष्य रखा गया है। गौरतलब है कि अभी सीमित मात्रा में टीके मिलने के कारण कई टीकाकरण केंद्रों पर टीके लगवाने वालों की भीड़ लग रही है। इसके कारण लोगों को टीका लगवाने के लिए परेशान होना पड़ रहा है। जिन लोगों को अब तक दूसरी डोज नहीं लगी है उनके लिए यह विशेष टीकाकरण सत्र चलाए जा रहे हैं।