Jabalpur News: भू-माफियाओं और बदमाशों के कब्जे से मुक्त हुई लाखों की सरकारी जमीन

बदमाश सोनकर ने करीब ढाई हजार वर्ग फ़ीट की सरकारी जमीन पर अवैध निर्माण कर डाला था। अवैध निर्माण कर सूकर का पालन कर रहा था। अन्य दो भू-माफियाओं ने भी लगभग इतनी ही जमीन पर कब्जा कर रखा था।

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। लाखों रुपए की सरकारी जमीन (government land) काफी समय से भू-माफियाओं (land mafias) और बदमाशों (miscreants) के कब्जे में थी। शनिवार को प्रशासन, पुलिस (police) और नगर निगम (municipal council) की संयुक्त टीम ने शातिर बदमाश अनिल सोनकर के साथ दो भू-माफियाओं से इस सरकारी जमीन को मुक्त करवा दिया। बदमाश सोनकर ने करीब ढाई हजार वर्ग फ़ीट की सरकारी जमीन पर अवैध निर्माण कर डाला था। अवैध निर्माण कर सूकर का पालन कर रहा था। अन्य दो भू-माफियाओं ने भी लगभग इतनी ही जमीन पर कब्जा कर रखा था।

रांझी थाना प्रभारी आर.के. मालवीय के अनुसार कलेक्टर कर्मवीर शर्मा और पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा के निर्देश पर जिले में भू-माफियाओं के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। उन्हें जानकारी मिली कि बदमाश मोनू उर्फ अनिल सोनकर ने मोहनिया गांव में करीब 10 लाख की शासकीय जमीन पर कब्जा कर रखा था। और उस जमीन और अवैध निर्माण कर वो सूकर पालन कर रहा था। इसके अलावा बाकी दो भू माफिया भी इसी तरह की अवैध गतिविधियों को कब्जा की गई जमीन पर अंजाम दे रहे थे।

यह भी पढ़ें… Jabalpur: आर्थिक हालात के चलते युवक ने मौत को लगाया गले, तिलवाराघाट पुल से कूदकर दी जान

बता दें कि बदमाश मोनू के खिलाफ शराब तस्करी, अवैध वसूली और मारपीट समेत अन्य आपराधिक मामलों में 11 प्रकरण दर्ज किए जा चुके हैं। कार्यवाही के दौरान सीएसपी रांझी मोहम्मद इसरार, तहसीलदार श्याम चंदेल, नगर निगम उपयुक्त वेदप्रकाश आदि उपस्थित रहे। कार्यवाही में संयुक्त टीम ने 50 लाख की सरकारी जमीन मुक्त करवाई।साथ ही 15 लाख की लागत के अवैध निर्माण को ध्वस्त करवाया।