जमीनों के सौदे के नाम पर करोड़ों डकार गए दलाल, किसानों ने की कार्रवाई की मांग, दी आंदोलन की चेतावनी

जबलपुर के ग्रामीण किसानो की जमीनों पर भूमाफियाओ द्वारा कब्ज़ा करने और उन्हें फर्जी तरीके से बेचने को शनिवार को पीड़ित किसानो ने अपना दुखड़ा पत्रकारों के सामने रखा

जबलपुर, संदीप कुमार| देश का किसान केंद्र सरकार द्वारा लागू किये गए कृषि बिल को लेकर आंदोलन कर रहा है| वहीं दूसरी और जबलपुर (Jabalpur) के आधा दर्जन किसान (Farmers) दलालो द्वारा उनकी जमीनों को फर्जी तरीके से बेचने को लेकर आंदोलन (Protest) की चेतावनी दे रहे है।

जबलपुर के ग्रामीण किसानो की जमीनों पर भूमाफियाओ द्वारा कब्ज़ा करने और उन्हें फर्जी तरीके से बेचने को शनिवार को पीड़ित किसानो ने अपना दुखड़ा पत्रकारों के सामने रखा।  पीड़ित किसानो ने फर्जी तरीके से जमीन बेचने वाले दो आरोपी दलालों पर कार्यवाही की मांग की है।  पीड़ित लोगो ने बताया कि प्रतीक शुक्ला और देवेंद्र पटेल ने फर्जी तरीके से उनकी आधा एकड़ जमीन को हड़प लिया और कूटरचित दस्तावेज तैयार कर महिला के पति को जेल भेज दिया।

रमेश पटेल नामक किसान का कहना है कि उनकी सम्पत्ति का सौदा प्रतीक शुक्ल और देवेंद्र पटेल ने 1 करोड़ 21 लाख 29 हजार रूपये में किया था।  सौदे के एवज में 50 लाख रुपये दिए थे और बाकी के 71 लाख 29 हजार रुपये बाकी है। दलालों ने बाकी के रुपये अभी तक नहीं दिए है और हमें परेशान कर रहा है।

इसी तरह किरण मिश्रा का कहना है कि मेरी सम्पत्ति का सौदा भी 1 करोड़ 45 लाख रुपये में हुआ था। दोनों आरोपियों ने 10 लाख रुपये सौदे के रूप में देने के बाद 1 करोड़ 35 लाख रुपये आज तक नहीं दिए है। पीड़ित लोगों ने प्रशासन से मांग की है कि दोनों आरोपियों की जांच कराकर  दोनों सलाखों के पीछे डाला जाए।  अगर दोनों पर उचित कार्यवाही नहीं होती तो वो पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने आमरण अनशन करने हेतु बाध्य होंगे।