जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर (Jabalpur) के डुमना एयरपोर्ट (Dumna Airport) के विस्तारीकरण और टर्मिनल की क्षमता बढ़ाने का काम तेजी से चल रहा है। इस काम को साल 2022 के अंत तक पूरा कर लिया जाएगा, इसके बाद डुमना एयरपोर्ट पर एअरबस, बोइंग जैसे बड़े यात्री विमान उतरने लगेंगे इसके साथ ही अंतरराष्ट्रीय उड़ानें भी जबलपुर से प्रारंभ हो जाएंगी।

यह भी पढ़ें…Bhopal News: दिल्ली की गैंग ने ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बेचने के नाम पर ठगे 18 लाख, 3 गिरफ्तार

जबलपुर एयरपोर्ट का टर्मिनल भी तैयार किया जा रहा है जिससे आने वाले समय में इस टर्मिनल में ढाई सौ से ज्यादा यात्री एक बार में मौजूद रह सकते हैं। लेकिन एयरपोर्ट के रनवे के विस्तारीकरण में जमीन संबंधी दिक्कतें आ रही हैं। जिसे दूर करने के लिए आज कलेक्टर कार्यालय में एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया, जिला प्रशासन और राजस्व विभाग के अमले की एक महत्वपूर्ण बैठक हुई। इस बैठक में जमीन से संबंधित सभी परेशानियों को एक साथ मिलकर दूर किया गया और एयरपोर्ट और टर्मिनल के काम को आसान बना दिया गया है। अधिकारियों का दावा है कि कोरोना संक्रमण की वजह से काम में हुई देरी की जल्द भरपाई कर ली जाएगी और तय समय सीमा में एयरपोर्ट के विस्तारीकरण और सौंदर्यीकरण का काम पूरा कर लिया जाएगा। जिससे मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) को इंदौर (Indore) और भोपाल (Bhopal) के बाद एक और उच्च स्तरीय एयरपोर्ट की सुविधा मिल जाएगी,अधिकारियों के मुताबिक एयरपोर्ट के विस्तारीकरण के काम में अब तेजी आ गई है और सभी विभाग समन्वय स्थापित कर काम कर रहे हैं जिससे यह योजना जल्द पूरी हो जाएगी।