जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर (Jabalpur) के पनागर में 97 साल वृद्धा की हत्या कर लूट करने का मामला सामने आया है। जहां वृद्धा दो दिन से गायब थी। जिसकी शुक्रवार सुबह नदी में उतारते हुए लाश मिली है। परिजनों का आरोप है कि वृद्धा की हत्या हुई है क्योंकि उसके गले से मंगलसूत्र और कमर से करधन गायब थी और गले में भी चोट के निशान थे। इधर पनागर पुलिस ने शव को पीएम भिजवाते हुए प्रकरण की जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें…भोपाल क्राइम ब्रांच ने पकड़ा डेढ़ लाख का अवैध गांजा, 4 आरोपी गिरफ्तार

पनागर ऊर्दकला निवासी 97 वर्षीय वृद्धा अपने घर से दो दिन पहले खिरिया पिपारिया जाने के लिए निकली थी। परंतु वह खिरिया पिपारिया नहीं पहुंची इसकी जानकारी जब परिजनों को लगी तो उन्होंने पनागर थाने महिला की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई। इसी बीच परिजनों को सूचना मिली कि वृद्ध महिला का शव मनारिया पिपारिया के नदी में उतर रहा है। परिजनों ने इसकी जानकारी पुलिस को देते हुए मौके पर पहुंचे तो वृद्ध के गले में सोने का मंगलसूत्र और कमर से चांदी का डेढ़ किलो का करधन गायब था। परिजनों ने पुलिस को बताया कि किसी ने लूट के इरादे से हत्या कर शव नदी में फेंक दिया है, क्योंकि गले और आंख के पास चोट के निशान है।

परिजनों ने बताया कि वृद्धा बीते दिनों अपने घर से खिरिया पिपारिया बड़े पापा के यहां जाने निकली थी। परंतु वहां न पहुंचकर वह मनारिया पिपारिया कैसे पहुंच गई परिजनोें को यह बात गले नहीं उतर रही है। परिजनों का कहना था कि वृद्ध महिला कभी भी घर से अकेली नहीं निकली है लेकिन अचानक से बड़े पिता के यहां जाने की सुध आई और वह अकेले ही घर से निकल गई।

यह भी पढ़ें…गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इंदौर में कही ये बड़ी बाते, साधा पूर्व सीएम पर निशाना !