जबलपुर।

केंद्र सरकार की श्रम विरोधी नीतियों एवं जन विरोधी बैंकिंग सुधार के विषय पर आज राष्ट्रव्यापी हड़ताल की गई है। जिसका असर केंद्रीय सुरक्षा संस्थानों सहित बैंक,बीमा कंपनी,डाक,रेल्वे एवं संचार कार्यालय में भी देखने को मिल रहा है। केंद्रीय श्रमिक संगठनों एवं स्वतंत्र फेडरेशन के संयुक्त आह्वान पर पर केंद्रीय कर्मचारीयो ने एक दिवसीय हड़ताल की है।

ट्रेड यूनियनों की राष्ट्रीय समिति के जबलपुर इकाई की ओर से यह हड़ताल बुलाई गई है।हड़ताल को लेकर ऑल इंडिया डिफेंस एंप्लॉय फेडरेशन के संगठन मंत्री रामप्रवेश ने बताया कि केंद्र सरकार लगातार मजदूर विरोधी नीतियां चलाकर पूजी पतियों को लाभ पहुंचा रही है।वर्तमान की केंद्र सरकार  मजदूर विरोधी रवैया अपना रही है,देश विरोधी,छात्र विरोधी रवैया के साथ काम कर रही है यही वजह है कि उसके खिलाफ आज पूरे देश के केंद्रीय श्रम संगठनों द्वारा इस हड़ताल को आयोजित किया गया है।आज देश में बैंक,पॉलिसी बीमा तथा टेलीकॉम क्षेत्र,कॉलेज इसमें बंद को लेकर समर्थन दे रहे हैं।कर्मचारी नेता ने आरोप लगाया है कि इस बंद के लिए केंद्र सरकार पूरी तरह जिम्मेदार है क्योंकि सबका साथ सबका विकास के साथ केंद्र में आई ये सरकार देश मे विनाश करने पर उतारू है।इस विनाशकारी नीति के खिलाफ आज बंद है जिसका समर्थन सभी यूनिराज पूरी तरह से कर रही है।वही उत्पादन के विषय में उन्होंने कहा कि 31मार्च उत्पादन का समय होता है इसलिए आम जनता को इसमें जबरन शामिल नही किया गया है पर ट्रेड यूनियन आज हड़ताल पर है।