Jabalpur news: फर्जी मान्यता पर चल रहा था हिस्ट्री सीटर अब्दुल रज्जाक का स्कूल

फर्जी दस्तावेजों के दम पर मान्यता प्राप्त कर हिस्ट्रीशीटर चला रहा था स्कूल। अब्दुल रजाक के स्कूल की मान्यता फर्जी दस्तावेजों से हासिल की गई।

जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर जिले के कुख्यात हिस्ट्रीशीटर अब्दुल रज्जाक के खिलाफ कई सबूत पुलिस को मिल चुके है और उसके कई कारनामे अब तक बेपर्दा हो चुके। इसी क्रम में अब्दुल रजाक की एक और जालसाजी सामने आई है। पुलिस ने अब अपनी छानबीन में पाया है कि ओमती नया मोहल्ला के पास संचालित अब्दुल रजाक का स्कूल लिटिल चैंप्स फर्जी मान्यता पर चल रहा है।

यह भी देखें- Jabalpur News : शराब की चलती फिरती दुकान का पर्दाफाश, एक गिरफ्तार

स्कूल को जो मान्यता मिली हुई है वह फर्जी दस्तावेजों के दम पर ली गई है। पुलिस की जांच में हुए खुलासे के अनुसार अब अब्दुल रज्जाक और उसके भाइयों सहित अन्य लोगों पर फर्जी दस्तावेज के आधार पर स्कूल की मान्यता लेने का केस दर्ज किया गया है। पुलिस की जांच में पता चला है कि अब्दुल रज्जाक एवं उसके भाइयों ने लिटिल चैंप्स स्कूल की एक सोसाइटी गठित की और संचालन किया।

यह भी देखें- jabalpur news: ह्रदय की धमनियों में घुलने वाले स्टंट का सफलतापूर्वक प्रत्यारोपण

स्कूल की मान्यता संबंधित पेश किए गए सभी दस्तावेज फर्जी है।स्कूल शिक्षा विभाग को दिए गए फर्जी दस्तावेजों की भी पुलिस जांच कर रही है।
ओमती थाना पुलिस अब लिटिल चैंप्स स्कूल सोसायटी के अध्यक्ष मोहम्मद अब्बास, उपाध्यक्ष आनंद शर्मा, सचिव मोहम्मद रियाज, संयुक्त सचिव सतीशवर चंचल सहित एक दर्जन से ज्यादा लोगों के खिलाफ फर्जी दस्तावेज लगाकर स्कूल की मान्यता प्राप्त करने का केस दर्ज कर जांच में लगी हुई है।

यह भी देखें- Jabalpur news: आधी रात को किसान के घर लाखों की लूट

पुलिस फिलहाल अपराधी के खिलाफ हर नजरिए से जांच कर रही है और स्कूल की मान्यता प्राप्त करने में की गई धांधली पर भी बारीकी से खोजबीन कर रही है।